Important of Polity Grenal Knowledge Questions and Answers Exam Paper

Get top class preparation for competitive exams right from your home: get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of your exam.

Download PDF of This Page (Size: 129K)

63 निम्नलिखित में से कौन सही सुमेलित नहीं है?

(1) बंदीप्रत्यक्षीकरण- शाब्दिक तौर पर अर्थ है ’व्यक्ति को सामने लाओ’

(2) परमादेश- एक व्यक्ति को सार्वजनिक कर्तव्य करने का निर्देश है।

(3) अधिकरपृच्छा -निचली अदालत में मामले की सुनवाई रोकने के लिए जारी आदेश।

(4) प्रतिषेध-निचली अदालत के निर्णय या आदेश को खारिज करने हेतु जारी।

(a) 2, 3 और 4

(b) 1 और 2

(c) केवल 3

(d) 3 और 4

Answer (d)

64 भारतीय संसद के संबंध में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा सही नहीं है?

(a) विनियोजन विधेयक का, कानून बनने से पूर्व, ससंद के दोनों सदनों दव्ारा पारित होना अनिवार्य है।

(b) विनियोजन अधिनियम के अधीन विनियोजन हुए बिना भारत के संचित निधि में से धन नहीं निकाला जा सकता।

(c) नए कर प्रस्तावित करने के लिए वित्तविधेयक का होना आवश्यक है जबकि चालू करों की दर में बदलाव के लिए किसी अन्य विधेयक/अधिनियम की आवश्यकता नहीं है।

(d) राष्ट्रपति की सिफारिश के बिना कोई धन विधेयक नहीं लाया जा सकता।

Answer (c)

65 भारत के लोक वित्त से संबंधित निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए-

(1) भारत के लोक लेखा से संवितरण संसद के मत के अध्याधीन हैं।

(2) भारत के संविधान में प्रत्येक राज्य के लिए संचित निधि, लोक लेखा और आकस्मिक निधि का उपबंध है।

(3) रेल बजट में विनियोजन तथा संवितरण अन्य विनियोजनों और संवितरणों की तरह ही संसद के समान नियंत्रण के अधीन है।

उपरोक्त कथनों में से कौन-से सही है?

(a) 1 और 2

(b) 2 और 3

(c) 1 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer (d)

66 न्यायिक पुनर्विलोकन में न्यायालय को निम्नलिखित अधिकार है।

(a) यदि कोई कानून या आदेश संविधान के विपरीत हो तो उसे असंवैधानिक घोषित करना।

(b) निचले न्यायालयों के आदेशों का पुनर्विलोकन करना।

(c) निचले न्यायालयों के निर्णय के विरुद्ध अपील सुनना।

(d) कानूनों का इस दृष्टिकोण से परीक्षण एवं उनके बनाने में निर्धारित प्रक्रिया का अनुपालन हुआ है।

Answer (a)

67 उच्चतम न्यायालय की परामर्शी अधिकारिता के विषय में निम्नलिखित में से कौन-से कथन सही हैं?

(1) उच्चतम न्यायालय के लिए यह बाध्यकारी है कि वह राष्ट्रपति दव्ारा निर्देशित किसी भी मामले में अपना मत व्यक्त करें।

(2) परामर्शी अधिकारिता की शक्ति के अधीन प्राप्त किस निर्देश पर उच्चतम न्यायालय की पूर्ण पीठ सुनवाई करती है।

(3) परामर्शी अधिकारिता के अधीन प्राप्त निर्देश पर व्यक्त किया हुआ उच्चतम न्यायालय का मत सरकार पर बाध्यकारी नहीं होता।

(4) उच्चतम न्यायालय को उसकी परामर्शी अधिकारिता की शक्ति के अधीन एक बार में केवल एक ही निर्देश भेजा जा सकता है।

नीचे दिए हुए कूटों की सहायता से सही उत्तर का चयन कीजिए-

(a) 1 और 2

(b) 1 और 3

(c) 2 और 3

(d) 2 और 4

Answer (c)

68 संविधान ने न्यायालयों को क्षेत्रीय राजनीति से अलग रखने के लिए न्यायालयों को कुछ मामलों में केन्द्र के अधीन रखा गया है। केन्द्र अपना नियंत्रण निम्न में किन मामलों में रखता है?

(1) एक उच्च न्यायालय से दूसरे उच्च न्यायालय में स्ाानांरण के मामले में।

(2) दो राज्यों के लिए एक उच्च न्यायालय की स्ाापना के मामले में।

(3) उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की आयु संबंधी विवाद के मामले में।

(a) केवल 1

(b) 2 और 3

(c) 1 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer (d)

69 संविधान में अंतरराज्यीय परिषद के क्या कार्य निश्चित किए गए हैं?

(1) राज्यों के मध्य विवादों की जाँच करना व परामर्श देना।

(2) दो या अधिक राज्यों के समान हित के मामलों की जाँच करना।

(3) किसी भी विषय पर कार्यवाही और नीति में सामंजस्य स्थापित करने की सिफारिश करना।

(4) व्यापार व वाणिज्य की स्वतंत्रता से संबंधित व्यवस्थाओं को लागू करना।

(a) 1, 2 और 4

(b) 1, 2 और 3

(c) 2 और 4

(d) 2, 3 और 4

Answer (b)

70 निम्नलिखित में से कौन-सा/से कथन संघवाद के सिद्धांत का अतिक्रमण नहीं करता/करते है/हैं?

(1) भारत का राष्ट्रपति आपात के उपबंधों के अधीन दोनों का प्रशासन अपने हाथ में ले लेता है।

(2) भारत में संसद को समवर्ती सूची अथवा राज्य सूची में प्रगणित न किए गए किसी भी विषय पर कोई भी विधि बनाने की अनन्य-शक्ति है।

(3) संघ एवं प्रांतों के मध्य शक्तियों का वितरण, भारतीय संविधान में प्रगणित तीन विभिन्न सूचियों के माध्यम से किया जाता है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए-

(a) 1 और 2

(b) 2 और 3

(c) केवल 3

(d) 1 और 3

Answer (c)

Developed by: