दक्षिण अफ्रीका का भूगोल (Geography of South Africa) Part 5 for Bank Clerical

Glide to success with Doorsteptutor material for UGC : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

Download PDF of This Page (Size: 153K)

कृषि-

दक्षिणी अफ्रीका गणराज्य में कृषि एवं पशुपालन दोनों का ही समान महत्व है। यहां की मुख्य फसलें मक्का, गेहूँ, गन्ना, सोर्घम, तिलहन, आलू, कपास, फल एवं सब्जियाँ हैं।

  • मक्का-मक्का उत्पादन में दक्षिण अफ्रीका का अफ्रीका महादव्ीप में ही नहीं बल्कि तीनों दक्षिणी महादव्ीपों में भी ब्राजील के बाद सर्वाधिक महत्वपूर्ण स्थान है। अत: मक्का यहाँ की राष्ट्रीय फसल है। यहाँ के मूल निवासी (बान्टू) तथा अश्वेत निवासियों का मुख्य भोजन मक्का एवं सोर्घम ही है। अफ्रीका महादव्ीप की 40 प्रतिशत मक्का यहीं पैदा की जाती है। सबसे अधिक मक्का की सघन कृषि वेल्ड प्रदेश में की जाती है। यह प्रदेश मक्का त्रिभुज के नाम से प्रसिद्ध है। यहाँ के बान्टू इसे मिलीज कहते हैं। यहां से मक्का का निर्यात मुख्यत: यू. के. में होता है।

  • गेहूँ- अफ्रीका महादव्ीप में इस देश का गेहूँ उत्पादन में तीसरा स्थान है। यह यहाँ की गोरी जातियों का मुख्य भोजन है। यहाँ पर गेहूँ के तीन मुख्य उत्पादक पद्रेश है

  • भूमध्यसागरीय तट पर सर्वत्र यह मुख्य फसल है।

  • उत्तर-पूर्व के मध्यवर्ती भाग में ट्रांसवाल में सिंचाई की सहायता से गेहूँ की सघन कृषि की जाती है।

  • ओरेंज (संतरा) फ्री स्टेट (निशुल्क राज्य) में इसकी कृषि का विस्तार पिछले 30-40 वर्षों में अधिक हुआ है।

  • सोर्घम- इसे दक्षिण अफ्रीका में जनजातियों दव्ारा उपजाया जाता है। इसकी कृषि 40 से.मी. से कम वार्षिक वर्षा के क्षेत्र में की जाती है। यह मुख्यत: मरुस्थलीय, अर्द्धमरुस्थलीय तथा लाल मृदा की फसल है।

आलू का उत्पादन मुख्यत: पूर्वी प्रदेश एवं भूमध्यसागरीय प्रदेशों में किया जाता है। अब यहाँ पर पश्चिमवर्ती अर्द्धशुष्क प्रदेशों एवं मध्यवर्ती भागों में सिंचाई के विकास के साथ-साथ कपास की कृषि भी की जाने लगी है।

  • गन्ना की कृषि यहांँ दो क्षेत्रों में होती हैं-

  • नेटाल का तटीय क्षेत्र

  • जूलूलैंड (लेसोयो के उपर)।

यहांँ गन्ना की कृषि शुरु करने का श्रेय ब्रिटिश सरकार तथा भारतीय मजदूरों को जाता है। आज भी अधिकतर गन्ना खेत के मालिक भारतीय मूल के लोग है।

तंबाकू यहाँं नेटाल तथा केप प्रांत के सिंचित क्षेत्रों में होती हैं। फलों का अधिकतर उत्पादन सारे तटीय भागों एवं ओरेंज नदी की घाटी में होता है। केप प्रांत में अंगूर की खेती होती है। यह दक्षिणी गोलादव्र् में सबसे बड़ा अंगूर उत्पादक देश है। यहाँ अंगूर से शराब भी बनाई जाती है। केपटाउन दक्षिणी गोलादव्र् में शराब निर्यात का सबसे बड़ा बंदरगाह है।

Developed by: