Impact of Terrorism and Landscape, Geographic Thinking, Dualism in Geography Part 24

Get unlimited access to the best preparation resource for UGC : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

Download PDF of This Page (Size: 264K)

आतंकवाद एवं भूआकृति का प्रभाव:-(Impact of terrorism and landscape)

अगम्य भूदृश्य, पर्वतीय प्रदेश, नदी घाटिया, wind gap, हिमस्खलन, सघन वन, हिम वर्षा जैसे भौगोलिक कारक सीमा पार आतंकवाद को प्रभावित करते है।

Impact of terrorism and landscape

प्उचंबज व जमततवतपेउ ंदक संदकेबंचम

  • राष्ट्रवाद एक भावना है जो नृजातीय एकत्व एक समान ऐतिहासिक पृष्ठभूमि अथवा समेकित सुरक्षा (common defence) अथवा राजनैतिक चिंतन अथवा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक समष्टि रूप में प्रतिनिधित्व करने की चेष्टा अथवा सांस्कृतिक एवं धार्मिक भावना से उत्पन्न अथवा उपजित होती है।

  • क्षेत्रवाद राष्ट्रवाद का विरोधी अथवा प्रतिस्पर्धी नहीं होता बल्कि यह राष्ट्रवाद का समर्थक है। क्योंकि क्षेत्रवाद में क्षेत्रीय जागरूकता होती है जो किसी आर्थिक, सामाजिक, राजनैतिक मुद्दे पर आधारित होती है। इसमें प्रगति की भावना एवं समस्याओं को उजाग्रत करना तथा राष्ट्रीय स्तर पर प्रकाशित करना निहित होता है। क्षेत्रीय जागरूकता पिछड़ेपन, गरीबी आर्थिक शोषण अशिक्षा के प्रसंग में उत्पन्न होती है जिससे राष्ट्रवाद में निहित समस्याओं का समाधान हो सकता है।

  • परन्तु यदि प्रादेशिक जागरूकता राष्ट्रीय हितों के खिलाफ एवं अवैधानिक, गैरसंवैधानिक हो तब यह उपराष्ट्रवाद होकर राष्ट्र विरोधी बन जाता है। जैसे-विदर्भ, तेलंगाना आदि की मांग क्षेत्रीय जागरूकता है। जबकि खालिस्तान की मांग राष्ट्र विरोधी है। जो प्रदेशवाद के भूमि पर उत्पन्न हुआ।

R.C. के मुद्दे:-

  • नये राज्यों की मांग।

  • नये भाषाओं के संविधान में पहचान की मांग जैसे-नेपाली, मैथली।

  • विशिष्ट राज्य का दर्जा देने की मांग।

  • सीमा विवाद (राज्यों की)

  • संसाधन पर विवाद।

  • जनजातीय प्रदेशों की मांग।

भौगोलिक चिंतन (Geographic thinking)

Perspective in geography

  • भौगोलिक चिंतन का मूल बिन्दु मानव प्रकृति संबंध है जिसमें प्रकृति का मानव पर प्रभाव एवं मानव का प्रकृति पर प्रभाव विश्लेषित होता है। अत: भौगोलिक चिंतन में दव्ैतवाद एवं दव्भाजन उत्पन्न होते है।

  • दव्ैतवाद का अर्थ है दो विचारधाराओं की समानांतर स्थितियाँं जिनके लक्ष्य एक है। ये परस्पर विरोधी होते हुए भी एक दूसरे के पूरक होते है परन्तु दव्भाजन में दो विरोधी मत एक दूसरे से पृथकत्व उत्पन्न करते है।

भूगोल में दव्ैतवाद:- (Dualism in geography)

Dualism in geography

क्नंसपेउ पद हमवहतंचील

Dualism in geography

Dualism in Geography

Developed by: