Hindi Class 7 Question Paper SA-2 2013 Download All the Papers for 2021 Exam

Doorsteptutor material for CTET-Hindi is prepared by world's top subject experts: fully solved questions with step-by-step explanation- practice your way to success.

खंड-क (अपठित बोध)

प्रश्न 1 निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर विकल्प में से छाँटकर लिखिए।

(क) हमारे देश के त्योहार चाहे धार्मिक दृष्टि से मनाए जा रहे हों या नए वर्ष के आगमन के रूप में, फसल की कटाई एवं खलिहानों के भरने की खुशी में हो या महापुरुषों की याद में, सभी अपनी विशेषताओं एवं क्षेत्रीय प्रभाव से युक्त होने के साथ ही देश की राष्ट्रीय एवं सास्कृतिक एकता और अखंडता के मजबूती प्रदान करते हैं। ये त्योहार जहा जनमानस में उल्लास, उमंग और खुशहाली भर देते हैं, वहीं हमारे अंदर देशभक्ति एवं गौरव की भावना के साथ-साथ विश्व बंधुत्व एवं समन्वय की भावना बढ़ाते हैं। इन त्योहारों के माध्यम से हमे यह भी शिक्षा मिलती है कि वास्तव में धर्मो का मूल लक्ष्य एक ही है। धर्म उस लक्ष्य तक पहुँचने के अलग-अलग तरीके हैं।

(क) सद क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू भावना और सद क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू विचार के दव्ारा हम क्या कर सकते हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ धनवान हो जाएँगे।

  • प्रगति की और बढ़ेगें।
  • गरीब हो जाएँगें।

(ख) उपर्युक्त गद्यांश का उपर्युक्त शीर्षक सुझाइए।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ त्योहार

  • जन्मदिन
  • महापुरुष

(ग) त्योहार मानव के अंदर क्या भर देता हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ उल्लास, उमंग और खुशहाली

  • रंग भर देता है।
  • अनाज भर देता है।

(घ) उपरोक्त गद्यांश में धर्मों के कितने लक्ष्य पर प्रकाश डाला गया है?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ एक

  • दो
  • तीन
  • चार

(ङ) ‘एकता’ शब्द का विलोम है-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ अखंडता

  • एकमतता
  • अनेकता

(ख) निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए-

पेड़-पौधों के साथ मानव का बहुत पुरना संबंध है। वृक्षों के अभाव में जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। पेड़-पौधे मनुष्य की अनेक प्रकार की आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं। ये केवल सौंदर्य और सुरक्षा के साधन मात्र नहीं हैं अपितु हमारे जीवन दाता भी हैं। जिस प्रकार माता अपने बच्चों का पालन-पोषण करते है, वैसे ही पेड़-पौधे भी हमें शुद्ध वायु देकर हमें जीवित रखते हैं। पेड़-पौधों से प्राप्त अनेक पदार्थों पर अनेक उद्योग -धंधे आश्रित रहते हैं। ये वातावरण को शुद्ध करने के साथ-साथ प्रदूषण भी रोकते हैं।

दुर्भाग्यवश जिस प्रकार वनों को काटा जा रहा है, उसके कारण सूखा, बाढ़, भूकंप जैसी प्राकृतिक विपत्तियों का सामना करना पड़ रहा है। भारतीय संस्कृति में तो अनेक वृक्षों को पवित्र माना गया है। वृक्षों के महत्व को ध्यान में रखते हुए हमारी सरकार ने वन महोत्सव का कार्यक्रम प्रारंभ किया है जो प्रतिवर्ष जुलाई माह में मनाया जाता है।

(क) वनों के काटने से क्या दुष्परिणाम हो रहे हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ महंगाई का बढ़ना

  • भारतीय संस्कृति पर प्रभाव पड़ना
  • सूखा, बाढ़, भूकंप आदि विपत्तियों में तीव्रता

(ख) वन महोत्सव कब मनाया जाता है?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ अगस्त में

  • दिसंबर में
  • जुलाई में

(ग) हमारे जीवन दाता हैं-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ मनुष्य

  • सौंदर्य
  • पेड़-पौधे

(घ) वातावरण को शुद्ध करने में किसका हाथ हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ जानवरों का

  • मनुष्य का
  • पेड़-पौधों का

(ङ) ‘आश्रित’ शब्द का विलोम होगा-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ आकर्षित

  • निराकृर्षित
  • निराश्रित

प्रश्न 2 निम्नलिखित पद्यांशों को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर विकल्प में से चुनिए-

(क)

माँ, ये लहरें भी गाती हैं

कल-कल, छल-छल, के मधुर स्वर में

अपना गीत सुनाती हैं।

मैं कब से बुला रही इनको

पर मेरे पास नहीं आती

तट तक आकर फिर भाग जाती

मैं चलूँ, साथ खेलूंँ इनके

देखो ये मुझे बुलाती हैं।

माँ! ये लहरें भी गाती हैं।

(क) लहरें क्या और किस प्रकार सुनाती हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ कल-कल मधुर गीत

  • कटुवचन
  • मधुभाषा

(ख) कौन किसे बुला रहा है?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ माँ बच्चे को

  • कवि लहरों को
  • गीत हमको

(ग) लहरें तट पर क्या करने आती हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ घूमने

  • खेल-खेलने
  • विश्राम करने

(घ) कवि का मन क्या करने के लिए उत्सुक है?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ उड़ने के लिए

  • गाने के लिए
  • लहरों के साथ खेलने के लिए।

(ङ) उपर्युक्त पद्यांश का उचित शीर्षक बताइए।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ कवि

  • लहरें
  • खेल

(ख) निम्नलिखित पद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर विकल्प में से चुनिए-

विहग, बंदी और चारण

गा रहे है कीर्ति-गायन

छोड़कर मैदान भागी,

तरकों की फौज सारी।

आ रही रवि की सवारी।

चाहता, उछलूँ विजय कह,

पर ठिठकता देखकर यह

रात का राजा खड़ा है,

राह में बनकर भिखारी।

आ रही रवि की सवारी।

(क) विहग, बंदी और चारण क्या गा रहे हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ कीर्ति-गायन

  • मधुर गायन
  • अपयश गायन

(ख) मैदान छोड़कर कौन भागा?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ भारतीय फौज़

  • तरकों की फौज़
  • बच्चों की फौज़

(ग) कवि क्या चाहता हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ राह में भिखारी बनना

  • फौज़ी बनना
  • विजय देख कर उछलना

(घ) ‘रवि’ शब्द का अर्थ हैं-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ सूरज

  • चाँद
  • तारा

(ङ) उपरोक्त पद्यांश का उचित शीर्षक लिखिए-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ आ रही रवि की सवारी

  • जा रही रवि की सवारी
  • खा रही रवि की सवारी

खंड-ख (व्यावहारिक व्याकरण)

प्रश्न 3 (क) निम्नलिखित शब्दों के उचित उपसर्ग लगाकर मिलान करिए-

Similies
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ दुरपरास्त
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ प्रतिराहा
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ परादुरात्मा
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ भरसंचय
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ तिप्रशासन
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ सम क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू (स)भरपेट
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ तिदुमंजिला
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ दुतिपंहियां

(ख) दिए गए शब्द में प्रयुक्त उचित प्रत्यय पर लगाइए-

(क) चढ़ाना

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ लावा

  • आवा
  • नावा

(ख) पठन

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ अन

  • पठ
  • ठन

(ग) मथनी

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ मथ

  • नी

(ग) निम्नलिखित मुहावरों के अर्थ का सही विकल्प चुनिए-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ इधर-उधर की हाँकना

(क) बहुत चतुर होना

(ख) बहुत गप्पे करना

(ग) इनकार करना

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ दांत खट क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू टे करना

(क) चुगली करना

(ख) कष्ट देना

(ग) बुरी तरह हराना

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ कान खड़े होना

(क) चौकन्ना होना

(ख) कष्ट देना

(ग) बुरी तरह हराना

(घ) निम्नलिखित लोकोक्तियों का सही अर्थ के साथ मिलान करिए-

Sayings
लोकोक्तियाँअर्थ
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ साँच को आँच नहींबुरों के साथ बुराई ही मिलती है।
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ खिसियानी बिल्ली खंभा नोचेंजो मनुष्य सच्चा होता है, उसे डर नहीं होता।
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ कोयले की दलाली में मुँह कालामूर्ख गुणों की महिमा नहीं जानते
ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ बंदर क्या जाने अदरक का स्वादकिसी बात पर लज्जित होकर क्रोध करना।

(ङ) निम्नलिखित विकल्पों में से शुद्ध वाक्य छाँटिए।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ (क) मुगल गार्डन (बगीचा) में अनेक गुलाब खिला है।

(ख) मुगल गार्डन में अनेक गुलाब खिले हैं।

(ग) मुगल गार्डन में अनेक गुलाब बिखरे हैं।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ (क) मुझे गृहकार्य करना था, आज।

(ख) मुझे गृहकार्य आज करना था।

(ग) मुझे आज गृहकार्य करना था।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ (क) तेरे को तो कुछ भी नहीं आता।

(ख) तुझे को तो कुछ भी नहीं आता।

(ग) तुम्हें तो कुछ भी नहीं आता।

(च) निम्नलिखित संधि विच्छेदों की उचित संधि चुनिए-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ भौ + उक

(क) भौतिक

(ख) भावुक

(ग) भाउक

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ रवि + इंद्र

(क) रवींद्र

(ख) रविंद्र

(ग) रावेन्द्र

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ महा + ईश्वर

(क) महीश्वर

(ख) महेश्वर

(ग) महाश्वर

खंड-ग (साहित्य)

प्रश्न 4 निम्नलिखित वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर दीजिए।

(क) स्वामी की दादी किसमें डूबी हुई थीं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ सोच में

  • चिंता में
  • अज्ञान के अंधकार में

(ख) राणा को स्कूल (विद्यालय) में क्या कह कर पुकारते थे?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ तेंदुलकर

  • क्रिकेटर
  • गांगुली

(ग) पाठ ‘गिल्लू’ में मोटर दुर्घटना में कौन घायल हुआ था?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ गिल्लू

  • लेखिका
  • कौए

(घ) ‘एक तिनका’ कविता के कवि कौन हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ महादेवी वर्मा

  • मुंशी प्रेमचंद्र
  • अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

प्रश्न 5 दिए गए वाक्यों में सही सामने सही और गलत के सामने का गलत का निशान लगाइए-

(क) गांधी जी ने कहा अक्षर ज्ञान तो तो इसलिए होता है कि जो कुछ तुम्हें मिला है, उसे तुम दूसरों को दे सको।

(ख) हिन्दी और अंग्रेजी विषय बड़ी उम्र में सीखना कठिन हैं।

(ग) गिलहरी के बच्चे को सब ‘गिल्लू’ कहकर बुलाते थे।

(घ) गिलहरियों के जीवन की अवधि एक वर्ष से अधिक नहीं होती।

प्रश्न 6 निम्नलिखित शब्दों के अर्थ लिखिए-

Word Meanings
मनकोऐंठ
उद क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू घाटनसब्जबाग
उदारतास्वर्गिक

प्रश्न -7 निम्नलिखित गद्यांशों में से किसी एक को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए

एक बात मैं कहना चाहता हूँ कि आमोद-प्रमोद एक निश्वित आयु तक ही शोभा देते हैं। बारह वर्ष की उम्र के बाद बच्चों में जिम्मेदारी और कर्त्तव्य का भाव होना चाहिए। उन्हें अपने आचार-विचार में सत्य और अहिंसा के प्रयोग की चेष्टा करनी चाहिए। और यह वे भार समझकर नहीं करे बल्कि एक आनंद का अनुभव करते हुए करें। यह आनंद कृत्रिम भी नहीं होना चाहिए। यह सरल और स्वाभाविक होना चाहिए। मैं जब तुमसे काफी छोटा था, तो मुझे स्वयं अपने पिताजी की सेवा करने में बहुत आनंद मिलता था। बारह वर्ष की आयु के बाद, आमोद-प्रमोद का बहुत ही कम बल्कि नही ंके समान ही अवसर मुझे मिला है।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ बारह वर्ष की आयु के बाद बच्चों में क्या होना आवश्यक हैं?

  • लेखक को क्या करने में बहुत आनंद आता था?
  • ‘कृत्रिम’ शब्द का एक पर्यायवाची शब्द लिखिए।
  • ‘आमोद-प्रमोद’ शब्द का अर्थ लिखिए।
  • उपर्युक्त गद्यांश में किस व्यक्ति के बारे में चर्चा की गई हैं?

अथवा

लाडलों उनका अभिप्राय समझ न सकी। उसने काकी का हाथ पकड़ा और ले जाकर जूठे पत्तलों के पास बैठा दिया। काकी पत्तलों से पूड़ियों के टुकड़े चुन-चुनकर खाने लगी। ओह दही कितना स्वादिष्ट था, कचौड़ियाँ कितनी सलोनी, खस्ता कितनी सुकोमल। काकी बुद्धिहीन होते हुए भी इतना जानती थी कि मैं वह काम कर रही हूँ जो मुझे कदापि नहीं करना चाहिए। मैं दूसरों की जूठी पत्तल चाट रही हूँ। परन्तु बुढ़ापा तृष्णा रोग का अंतिम समय हैं, जब संपूर्ण इच्छाएँ एक ही केन्द्र पर आ लगती हैं। बूढ़ी काकी में यह केन्द्र उनकी स्वादेंद्रियां थीं।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ लाडली कौन थी?

  • ‘तृष्णा’ शब्द का अर्थ लिखिए?
  • काकी के अनुसार उन्हें कदापि क्या नहीं करना चाहिए था?
  • उपरोक्त गद्यांश के लेखक का नाम लिखिए।

प्रश्न 8 निम्नलिखित पद्यांशों में से किसी एक को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर लिखिए।

मैं घमंडो में भरा ऐंठा हुआ,

एक दिन जब था मुंडेरे पर खड़ा।

आ अचानक दूर से उड़ता हुआ,

एक तिनका आँख में मेरी पड़ा।

मैं झिझक उठा, हुआ बेचैन-सा,

लाल होकर आँ भी दुखने लगी।

मुँठ देने लाेेग कपड़ें की लगे,

ऐंठ बेचारी दबे पाँवों भगी।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ ऐंठ शब्द का यहाँ क्या अर्थ हैं?

  • कवि कहाँ पर खड़ा था?
  • इस कविता के कवि का नाम लिखिए।
  • कवि के अनुसार घमंड दूर करने के लिए क्या काफी है?
  • ‘ऐंठ’ कैसे भागी?

अथवा

मोको कहाँ ढूँढे बंदे, मैं तो तेरे पास में।

ना मैं देवल ना मैं मसजिद, ना काबे कैलास में।

ना तो कौने क्रिया करम में, नहीं योग बैराग में।

खोंजी होय तो तुरतै मिलिहौं, पल भर की तालास में।

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ उपरोक्त पंक्ति के कवि का नाम बताइए।

  • कवि के अनुसार ईश्वर कहाँ मिलेंगे?
  • कवि के अनुसार भगवान कहाँ ढूँढने पर नहीं मिलेंगे?
  • ‘काबा’ शब्द का यहाँ क्या अर्थ हैं?

प्रश्न 9 निम्नलिखित कथन किसने, किससे कहे-

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ ′ हाँ ′ ! साल भर पहले तक मैं क्रिकेट खेला करता था। ′

  • ′ क्या तुम्हारी अम्मा ने दी हैं?
  • लड़के को चिढ़ाओ मत। वह मुझे कितना प्यार करता है। ′
  • ‘क्या अब नहीं खेलते?’

प्रश्न 10 निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षिप्त में लिखिए-

(क) ‘दादी तो अज्ञान के अंधकार में डूबी हुई हैं’ ? इस कथन का आशय लिखो।

(ख) गाँधी जी के अनुसार मणिलाल की शिक्षा कैसे पूरी हो रही थी?

(ग) फाइनल (अंतिम) मैच के अभ्यास के दौरान राणा क्यों छाया रहा?

(घ) महादेवी के खाने के कमरे में पहुंचने पर गिल्लू क्या करता था?

(ङ) नींद से उठकर रूपा ने क्या देखा?

प्रश्न 11 निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर विस्तार से लिखिए-

(क) महादेवी जी दव्ारा लिफाफे में बंद किए जाने पर गिल्लू क्या करता था?

(ख) कृष्ण अपनी माता यशोदा से किस की शिकायत कर रहे हैं?

(ग) फाइनल मैच के उद क्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउक्वूदसवंक ंसस जीम चंचमते वित रुक्ष्ल्म्।त्दव्रु म्गंउ्‌ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू ैवसनजपवदे ंदक मगचसंदंजपवदे ंज कववतेजमचजनजवतण्बवउरू घाटन के समय राणा का उत्साह और भी बढ़ गया। क्यों?

(घ) काकी को किस सुगंध ने बेचैन कर दिया। उन्होंने पूड़ियों को लेकर क्या-क्या कल्पना की?

खंड-घ (लेखन)

प्रश्न 12 निम्नलिखित में से किसी एक विषय पर पत्र लिखिए-

मनीआर्डर (डाक दव्ारा रुपया भेजने का चालान) गुम हो जाने की शिकायत करते हुए डाकपाल को एक पत्र लिखिए।

अथवा

पुस्तकालय में से हिन्दी की पुस्तके मंगवाने के लिए प्रधानचार्य/प्रधानाचार्या को आवेदन पत्र लिखिए।

प्रश्न 13 निम्नलिखित में से किसी एक विषय पर 80 से 100 शब्दों में अनुच्छेद लिखिए

(क) बाल श्रम

स्कोंत बिन्दु-

  • बाल मजदूरी की संख्या में वृद्धि
  • बाल श्रमिक शिक्षा से वंचित
  • बाल श्रम में कैसे कमी करें

(ख) हिन्दी-हमारी राष्ट्रभाषा

स्कोंत बिन्दु-

  • हिन्दी दिवस कब मनाया जाता हैं?
  • हिन्दी को राष्ट्रभाषा का गौरव दिलाने में स्वतंत्रता सेनानियों की अहम भूमिका
  • केवल कागज़ों में हिन्दी राष्ट्रभाषा।

Developed by: