CTET December 2019 P2 Hindi Language – II Questions Paper Part 1

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET/Paper-1 : get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET/Paper-1.

Hindi Language – II

121. निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए:

हमारे देश में एक ऐसा भी युग था जब नैतिक और आध्यात्मिक विकास ही जीवन का वास्तविक लक्ष्य माना जाता थाl अहिंसा की भावना सर्वोपरि थीl आज पूरा जीवन - दर्शन ही बदल गया हैl सर्वत्र पैसे की हाय-हाय तथा धन का उपार्जन ही मुख्य हो गया है, भले ही धन- उपार्जन के तरी के गलत ही क्यों न होंl इन सब का असर मनुष्य के प्रतिदिन के जीवन पर पड़ रहा हैl समाज का वातावरण दूषित हो गया हैl इन सब के कारण मानसिक और शारीरिक तनाव - खिंचाव और व्याधियाँ पैदा हो रही हैंl

आज आदमी धन के पीछे अंधाधुंध दौड़ रहा हैl पाँच रुपये मिलने पर दस, दस मिलने पर सौ और सौ मिलने पर हज़ार की लालसा लिए वह इस अंधी दौड़ में शामिल हैl इस दौड़ का कोई अंत नहींl धन की इस दौड़ में सभी पारिवारिक और मानवीय संबंध पीछे छूट गएl व्यक्ति सत्य-असत्य, उचित-अनुचित, न्याय-अन्याय और अपने- पराए के भेद-भाव को भूल गयाl उसके पास अपनी पत्नी और संतान के लिए भी समय नहींl धन के लिए पुत्र का पिता के साथ, बेटी का माँ के साथ और पति का पत्नी के साथ झगड़ा हो रहा हैl भाई - भाई के खून का प्यासा हैl धन की लालसा व्यक्ति को जघन्य से जघन्य कार्य करने के लिए उकसा रही हैl इस लालसा का ही परिणाम है कि जगह - जगह हत्या, लूट, अपहरण और चोरी - डकैती की घटनाएँ बढ़ रही हैंl इस रोगी मनोवृत्ति को बदलने के लिए हमें हर स्तर पर प्रयत्न करने होंगेl

‘धन उपार्जन’ में संधि करने पर शब्द बनेगा

A. धनुपार्जन

B. धनोपर्जन

C. धनूपर्जन

D. धनोपार्जन

122

‘आज पूरा जीवन - दर्शन बदल गया हैl’

उक्त कथन का आशय है________

A. आज जीवन में परिवर्तन आ गया हैl

B. आज जीवन के प्रति दृष्टिकोण में बदलाव आ गया हैl

C. आज संपूर्ण जीवन बदल गया हैl

D. आज समय बदलने से दिनचर्या बदल गई हैl

123. प्राचीन काल में जीवन का वास्तविक लक्ष्य क्या माना गया था?

A. आध्यात्मिक और सामाजिक विकास

B. आर्थिक और सामाजिक प्रगति

C. जीवन - दर्शन में परिवर्तन

D. नैतिक और आध्यात्मिक विकास

124. ‘जघन्य’ शब्द का अर्थ नहीं है –

A. निंदित

B. निकृष्ट

C. त्याग देने योग्य

D. जाँघ से संबंधित

125. हमारे मानवीय संबंध पीछे छूटने का कारण है-

A. धन कमाने की इच्छा

B. धन कमाने की लालसा

C. धन कमाने की अंधी दौड़

D. धन कमाने की विवशता

126. मानसिक तनाव की व्याधियों का कारण लेखक ने क्या माना है?

A. पर्यावरण प्रदुषण

B. किसी भी प्रकार धन कमाने की इच्छा

C. एक दिन दौड़ते रहना

D. चोरी-डकैती की घटनाएँ

127. उस शब्द युग्म को पहचानिए जो शेष से भिन्न हो:

A. उचित - अनुचित

B. चोरी - डकैती

C. सत्य - असत्य

D. न्याय - अन्याय

128. किस दौड़ को अंतहीन माना गया है?

A. आगे बढ़ने की

B. वास्तविक लक्ष्य पाने की

C. किसी भी प्रकार धन जोड़ने की

D. अपने-पराए को भुला देने की

Developed by: