Indian Geography MCQs in Hindi Part 8 with Answers

Download PDF of This Page (Size: 206K)

1 निम्नलिखित में से कौनसा/से सामाजिक वानिकी के अंतर्गत शामिल है/हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ शहरी वानिकी

  • ग्रामीण वानिकी

  • फार्म (कृषि) वानिकी

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिये।

अ) केवल 1 और 3

ब) केवल 1 और 2

स) केवल 2

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (द)

व्याख्या: सामाजिक वानिकी का अर्थ है पर्यावरणीय, सामाजिक व ग्रामीण विकास में मदद के उद्देश्य से वनों का प्रबंधन और सुरक्षा तथा ऊसर भूमि पर वनारोपण।

  • राष्ट्रीय कृषि आयोग (1976-79) ने सामाजिक वानिकी को तीन वर्गों में बांटा है - शहरी बानिकी, ग्रामीण वानिकी, और फार्म वानिकी।

  • शहरी वानिकी: शहरों और उनके आस पास के सार्वजनिक और निजी भूमि पर (हरित पट्‌टी, पार्क, औद्योगिक व व्यापारिक स्थल आदि) वृक्ष लगाना और उनका प्रबंधन।

  • ग्रामीण वानिकी: कृषि वानिकी और सामुदाय कृषि वानिकी को ग्रामीण वानिकी में शामिल किया जाता है।

  • कृषि वानिकी का अर्थ है कृषि योग्य तथा बंजर भूमि पर पेड़ और फसल एक साथ लगाना। इसका तात्पर्य है वानिकी और खेती एक साथ करना, जिससे खाद्यान्न, चारा, ईधन, इमारती लकड़ी और फलों का उत्पादन एक साथ किया जाए।

  • समुदाय वानिकी में सार्वजनिक भूमि जैसे- चरागाह, मंदिर भूमि, सड़कों के किनारे, नहर किनारे, रेल पट्‌टे के साथ पटरी और विद्यालयों में पेड़ लगाना। उल्लेखनीय है कि समुदाय वानिकी का उद्देश्य पूरे समुदाय को लाभ पहुंचाना और भूमिहीन लोगों को वानिकीकरण से जोड़ना इससे वे लाभ पहुंँचाना जो भूस्वामियों को प्राप्त होते हैं।

  • फार्म वानिकी: इसके अंतर्गत किसान अपने खेतो ंमें व्यापारिक महत्व वाले या दूसरे पेड़ लगाते हैं। इसके तहत, कई तरह की भूमि जैसे - खेतों की मेड़े, चारागाह, घांसस्थल, पशुओं के बाड़ों में भी पेड़ लगाएं जाते हैं।

2 ’शोलास’ के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ यह नीलगिरी, अन्नामलाई और पालनी पहाड़ियों पर पाए जाने वाले उष्ण कटिबंधीय सदाहरित वन है।

  • शोलास वनों में मग्रेलिया, लैरेल, सिनकोना और वैटल के वृक्ष पाए जाते हैं।

  • ये वन सतपुड़ा और मैकाल श्रेणियों में भी पाए जाते है।

उपर्युक्त कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

अ) केवल 1

ब) केवल 1 और 2

स) केवल 2 और 3

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (स)

व्याख्या:

  • कथन 1 असत्य है। ’शोलास’ नीलगिरी, अन्नमलाई और पालनी पहाड़ियों पर पाए जाने वाले शीतोष्ण कटिबंधीय वन हैं।

  • कथन 2 सत्य है। मग्रेलिया, लैरल, सिनकोना और वैटल के वृक्ष शोलास वनों में पाए जाते हैं। ये वृक्ष आर्थिक रूप से काफी महत्वपूर्ण होते हैं।

  • कथन 3 सत्य है। शोलास वन सतपुड़ा और मैकाल श्रेणियों में भी पाए जाते हैं।

3 निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ ओक और चेस्टनट पहाड़ी इलाकों में पाए जाने वाले सदाबहार वन के वृक्ष हैं।

चिनार और वालन हस्तशिल्प में प्रयुक्त होने वाली लकड़ियों के उदाहरण हैं।

उपर्युक्त कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

अ) केवल 1

ब) केवल 2

स) 1 और 2 दोनों

द) न तो 1 और न ही 2

उत्तर : (स)

व्याख्या:

  • कथन 1 सत्य है। ओक और चेस्टनट पहाड़ी इलाकों में पाए जाने वाले सदाबहार वन के वृक्ष हैं, ये वृक्ष उत्तर-पूर्वी भारत की उच्चतर पहाड़ी श्रृंखलाओं और पश्चिम बंगाल और उत्तरांचल के पहाड़ी इलाकों में चौड़े पत्तों इन वृक्षों की उपस्थिति देखी जा सकती है।

  • कथन 2 सत्य हे। पश्चिमी हिमालय में प्रचुर मात्रा में पाए जाने वाले चिनार और वालन की लकड़ियाँ कश्मीर में बड़े पैमाने पर हस्तशिल्प के लिये इस्तेमाल होती हैं।

  • उल्लेखनीय है कि हिमालय के पश्चिमी भाग में 1,500 से 1,750 मीटर की ऊँचाई पर व्यापारिक महत्व वाले चीड़ के वन पाए जाते हैं और निर्माण कार्य में प्रयुक्त होने वाली मजबूत लकड़ी देवदार भी इसी क्षेत्र में मिलता हैं।

4 हिमालय में 3,000 से 4,000 मीटर की ऊँचाई पर पाए जोने वाले पर्वतीय वनों के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ हिमालय के दक्षिणी भागों पर उत्तरी भाग की तुलना में अधिक वनस्पति पाई जाती है।

  • इन क्षेत्रों में ऋतु-प्रवास करने वाले समुदायों को देखा जा सकता है।

  • इन क्षेत्रों में टुंड्रा वनस्पति की उपस्थिति देखी जा सकती है।

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर का चयन कीजिये।

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 3

स) केवल 2 और 3

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (द)

व्याख्या:

  • कथन 1 सत्य है। चूँकि हिमालय का उत्तरी ढाल शुष्क है जबकि दक्षिणी ढाल अपेक्षाकृत अधिक वर्षा प्राप्त करता है। अत: हिमालय के दक्षिणी भागों पर उत्तरी भाग की तुलना में अधिक वनस्पति पाई जाती है।

  • कथन 2 सत्य है। हिमालय के पर्वतीय क्षेत्रों में 3,000 से 4,000 मीटर की ऊँचाई पर सिल्वर फर, जूनिपर, बर्च आदि के बीच उगने वाले शीतोष्ण कटिबंधीय घासों का पशुचारण के लिये उपयोग, वहाँ के ऋतु-प्रवास करने वाले जनजातियां, जैसे-गुज्जर, बक्करवाल, गद्दी और भुटिया दव्ारा किया जाता है।

  • कथन 3 सत्य है। हिमालय के पर्वतीय क्षेत्रों अधिक ऊँचाई वाले भागों पर टुंड्रा वनस्पतियाँ यथा-मॉस और लाइकेन पाई जाती हैं।

5 वेलांचली व अनूप वन के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ भारत में इन भूतियों पर चावल की खेती की जाती है।

  • चिल्का और केउलादेव राष्ट्रीय पार्क रामसर अधिवेशन के अंतर्गत संरक्षित आर्द्रभूमि है।

  • कश्मीर और लद्दाख की पर्वतीय झीलें भारत में आर्द्रभूमि का हिस्सा नहीं है।

उपर्युक्त कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 2 और 3

स) केवल 1 और 3

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (अ)

व्याख्या:

  • कथन 1 सत्य है। भारत में कई प्रकार के आर्द्र व अनूप आवास पाए जाते हैं। इसके लगभग 70 प्रतिशत भाग पर चावल की खेती की जाती है।

  • कथन 2 सत्य है। चिल्का (ओडिशा) और केउलादेव राष्ट्रीय पार्क (राजस्थान) रामसर अधिवेशन के अंतर्गत आर्द्रभूमि है। ये जलकुक्कुट के आवास के लिये भी जाने जाते हैं।

  • कथन 3 असत्य है। भारत में आर्द्रभूमि है। ये जलकुक्कुट के आवास के लिये भी जाने जाते हैं।

  • कथन 3 असत्य है। भारत में आर्द्रभूमि को आठ वर्गों में रखा गया है। इनमें कश्मीर और लद्दाख की पर्वतीय झीलें भी शामिल हैं।

  • उल्लेखनीय है कि वर्तमान में भारत में 26 साइटों (कार्यस्थलों) की अंतरराष्ट्रीय महत्व के जलीय क्षेत्रों (रामसर साइट्‌स) के रूप में नामित किया गया है, जिसमें 689,3131 हेक्टेयर का क्षेत्र शामिल हैं।

6 भारत की प्रसिद्ध चिल्का झील (ओडिशा) आर्द्रभूमि के संदर्भ में निम्निलिखत कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ चिल्का झील (ओडिशा) रामसर अधिवेशन के तहत संरक्षित पहली आर्द्रभूमि है।

  • वर्तमान में चिल्का झील को मॉन्ट्रीक्स रिकॉर्ड्‌स (अभिलेखी) की सूची में शामिल किया गया है।

  • चिल्का रामसर अधिवेशन के तहत भारत में सबसे बड़ी आर्द्रभूमि स्थल है।

उपर्युक्त कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 1

स) केवल 2 और 3

द) केवल 1 और 3

उत्तर : (ब)

व्याख्या:

  • कथन 1 सत्य है। चिल्का झील (ओडिशा) रामसर अधिवेशन के तहत संरक्षित पहली आर्द्रभूमि है। इसे यह दर्जा 1 अक्टूबर 1981 को दिया गया था।

  • कथन 2 असत्य है। वर्तमान में चिल्का झील को मॉन्ट्रीक्स रिकॉर्ड्‌स (अभिलेखी) की सूची से हटा दिया गया है। इस सूची में भारत के दो स्थल-केउलादेव राष्ट्रीय पार्क (राजस्थान) और लोकटक झील (मणिपुर) शामिल हैं।

  • कथन 3 असत्य है। भारत में रामसर सूची के तहत आने वाले स्थलों में वेम्बनाद कोल आर्द्रभूमि (151,250 हेक्टेयर) सबसे बड़ी है। जबकि चिल्का झील का क्षेत्रफल 116,500 हेक्टेयर है।

7 जीव मंडल निचय के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ यह एक विशेष प्रकार के भौमिक और तटीय पारिस्थिक तंत्र हैं।

ये यूनेस्कों के मानव और जीव मंडल कार्यक्रम के अंतर्गत मान्यता प्राप्त हैं।

उपर्युक्त कथनों में कौन-सा/से सत्य है/हैं?

अ) केवल 1

ब) केवल 2

स) 1 और 2 दोनों

द) न तो 1 और न ही 2

उत्तर : (स)

व्याख्या:

  • कथन 1 सत्य है। जीव मंडल निचय एक ऐसा आरक्षित क्षेत्र है, जो विशेष प्रकार के भौमिक और पारिस्थितिकी तंत्र से युक्त होते हैं।

  • कथन 2 सत्य है। जीव मंडल निचय को यूनेस्को के ’मानव और जीव मंडल योजना’ के तहत मान्यता प्रदान की कई है।

  • उल्लेखनीय है कि ’मानव और जीव मंडल योजना’ के तहत भारत सरकार ने वनस्पति जात और प्राणि जात के संरक्षण के कई महत्त्वपूर्ण कार्यक्रम चलाए हैं। प्रोजेक्ट (परियोजना) टाइगर (बाघ) (1973) और प्रोजेक्ट (परियोजना) एलीफेंट (हाथी) (1992) जैसी योजनाएं इसी उद्देश्य से चलाई जा रही हैं।

8 जीव मंडल निचय के संदर्भ में कौन-सा/से कथन सत्य है/हैं?

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ वर्तमान में भारत में 14 जीव मंडल निचय हैं।

  • भारत में कुल 4 जीव मंडल निचय को यूनेस्को दव्ारा जीव मंडल निचय विश्व नेटवर्क (जालतंत्र) पर मान्यता प्राप्त है।

  • नीलगिरी भारत में स्थापित प्रथम जीव मंडल निचय है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर का चयन कीजिये:

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 3

स) केवल 2 और 3

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (ब)

व्याख्या:

  • कथन 1 असत्य है। वर्तमान में भारत में कुल 18 जीव मंडल निचय हैं। ये निम्नलिखित हैं- नीलगिरी, नंदा देवी, नोकरेक, मानस, सुंदरबन, मन्नार की खाड़ी, ग्रेट निकोबार, सिमलीपाल, डिब्रू-सैकोवा, दिहांग-दिबांग, कंचनजंगा, पंचमढ़ी, अगस्त्यमलाई, अचनकमर-अमरकंटक, कच्छ, शीत मरुस्थल, शेषचलम हिल्स (पहाड़) और पन्ना।

  • कथन 1 असत्य है। वर्तमान में भारत के कुल 10 जीव मंडल निचय को यूनेस्को दव्ारा जीव मंडल निचय विश्व नेटवर्क पर मान्यता प्राप्त है। ये स्थल निम्नलिखित हैं- नीलगिरी (2000), सुंदरबन (2001), मन्ना की खाड़ी (2001), नंदा देवी (2004), नोकरेक (2009), पंचमढ़ी (2009) सिमलीपाल (2009), अचनकमी-अमरकंटक (2012), ग्रेट निकोबार (2013) और अगस्त्यमलाई (2016)।

  • कथन 3 सत्य है। नीलगिरी भारत में स्थापित प्रथम जीव मंडल निचय है। इसकी स्थापना 1986 में हुई थी।

9 यह जीव मंडल निचय भारत के पश्चिमी घाट में स्थित है। इस निचय में वायनाड वन्य जीवन सुरक्षित क्षेत्र, नागरहोल, बांदीपुर और मदुमलाई, निलंबूर का सारा वन ढका ढाल, ऊपरी नीलगिरी पठार, सायलेंट (शांत) वैली (घाटी) और सिदुवानी पहाड़ियां शामिल हैं।

उपर्युक्त विश्लेषण किस जीव मंडल निचय के बारे में है?

अ) नीलगिरी

ब) शेषाचलम हिल्स

स) अगस्त्यमलाई

द) मन्नार की खाड़ी

उत्तर : (अ)

व्याख्या: उपर्युक्त विश्लेषण तीन राज्यों (तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक) में विस्तृत नीलगिरी जीव मंडल निचय से संबंधित है।

10 निम्नलिखित युग्मों में कौन-सा/से सही सुमेलित है/हैं?

Table of States and Its Soil
Table of states and its soil

आर्द्रभूमि

राज्य

1 कंजली

गुजरात

2 सरथ्मकोट्‌टा झील

तमिलनाडु

3 भीतरकणिका

ओडिशा

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर का चयन कीजिये।

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 2 और 3

स) केवल 3

द) 1, 2 और 3

उत्तर : (स)

व्याख्या: सही सुमेलन इस प्रकार है-

Table of States
Table of States

1 कंजली

पंजाब

2 सरथ्यकोट्‌टा झील

केरल

3 भीतरकणिका

ओडिशा