अतिरिक्त विषय (Additional Topics) for Competitive Exams Part 2

Download PDF of This Page (Size: 172K)

ट्रांजिट आधारित विकास (टीओडी) को बढ़ावा देने के लिए अन्य नीतियां

  • टीओडी को दो पहलों, मेट्रो (भूमिगत रेल) नीति और ग्रीन (हरित) अर्बन मोबिलिटी (गतिशीलता) स्कीम (योजना) के तहत प्रोत्साहित किया जा रहा है।

  • नई मेट्रो नीति के तहत, टीओडी को अनिवार्य कर दिया गया है जबकि ग्रीन अर्बन मोबिलिटी स्कीम के तहत, टीओडी को केन्द्रीय सहायता में प्राथमिकता के साथ एक आवश्यक सुधार के रूप में इसकी सिफारिश की गई है।

दिशा परियोजना

सुर्ख़ियों में क्यों?

ग्राहक सेवा में सुधार लाने के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) विमान पत्तनों को निर्देश जारी करने के लिए सोशल (सामाजिक) मीडिया (संचार माध्यम) प्लेटफॉर्म (मंच) व्हाट्‌सऐप का प्रयोग कर रही है।

दिशा परियोजना क्या है?

  • एएआई ने पिछले वर्ष ग्राहक सेवा में सुधार लाने के लिए दिशा परियोजना को लांच (शुरू) किया था।

  • इसका उद्देश्य है-

  • ग्राहक सुविधा में सुधार लाना

  • विमान पत्तन की शौचालय जैसी सुविधाओं में सुधार लाना

  • नेविगेशन (नवाचार) में सुधार लाना

  • सर्वोत्तम और सस्ते खाद्य और पेय पदार्थ प्रदान करना।

  • यह परियोजना 10 विमान पत्तनों (कोलकाता, चेन्नई, लखनऊ, वाराणसी, भुवनेश्वर, पुणे, गोवा, गुवाहाटी, कोयंबटू और तिरुवंनतपुरम) पर लागू की जा रही है।

अवसरंचना वित्तपोषण

खेल क्षेत्रक को अवसरंचना का दर्जा प्रदान किया गया है

  • आरबीआई सहित विभिन्न एजेंसियों (शाखाओं) के साथ विचार-विमर्श के उपरांत वित्त मंत्रालय ने यह फैसला किया है कि स्पोट्‌र्स (खेल) इन्फ्रास्ट्रक्चर (आधारित संरचना) (स्पोट्‌र्स (खेल) से संबद्ध अवसंरचनाएं) को हार्मोनाइज्ड मास्टर (विशेषज्ञ) लिस्ट (सूची) ऑफ़ (का) इन्फ्रास्ट्रक्चर (आधारित संरचना) सबसेक्टर्स (उपक्षेत्रों) के अंतर्गत शामिल किया जाएगा।

  • इसमें खेल तथा खेल से संबंधित गतिविधियों में प्रशिक्षण/अनुसंधान हेतु अकादमियों (विद्यापीठ) के लिए खेल स्टेडियम (मैदान) और इन्फ्रास्ट्रक्चर (आधारित संरचना) के प्रावधान सम्मिलित हैं।

लाभ

  • खेल क्षेत्रक अब बैंकों (अधिकोषों) और अन्य वित्तीय संस्थाओं से दीर्घकालिका वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए प्राप्त होगा।

  • इससे ऐसे पब्लिक (लोग) गुड (लाभ/कुशल) (सार्वजनिक उपयोग वाले अवसंरचना आदि), अर्थात खेल क्षेत्रक में निजी निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा, जिसके कई सामाजिक- आर्थिक लाभ हैं।

  • इससे स्पोट्‌स (खेल) इनफ्रास्ट्रक्चर (आधारित संरचना) क्षेत्र में निवेश में वृद्धि होगी, जाेे अंतत: अर्थव्यवस्था में अपना योगदान देगा। पुन: इससे स्वास्थ्य और फिटनेस (योग्यता) को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के अवसर सृजित करने में भी यह सहायक होगा।

  • इससे हमारा देश भविष्य में एक खेल महाशक्ति बन सकता है।

अवसरंचना के लिए बजटेत्तर संसाधन

  • केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने अवसरंचना सुविधाओं को बढ़ाने के लिए वित्तीय वर्ष 2016-17 में कुल 31,300 करोड़ रुपये को जुटाने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है।

  • यह कदम वस्तुत: अवसंरचना सुविधाओं में सुधार के लिए सरकार के प्रयासों के पूरक के रूप में कार्य करेगा। पुन: यह कदम एक अधिक संधारणीय विकास के लिए राजस्व-पूंजी व्यय के मिश्रण को भी इंगित करता है।