रोजगार पर श्रम ब्यूरो (सरकारी विभाग) सर्वेक्षण 2015 (Labor Bureau Survey 2015 on Employment – Economy)

Download PDF of This Page (Size: 170K)

सर्वेक्षण के निष्कर्ष

• आठ श्रम प्रधान उद्योगों में वर्ष 2015 के पहले नौ महीनों में नई नौकरियों का सृजन वस्तुत: पिछले छह साल के निचले स्तर पर आ गया और सिर्फ 1.55 लाख नए रोजगार का सृजन हुआ।

• इसके विपरीत, जनवरी से सितंबर 2014 के बीच 3.04 लाख नए रोजगार और 2013 की इसी अवधि में 3.36 लाख नए रोजगार का सृजन हुआ था।

• जनवरी से सितंबर 2015 के बीच 21000 संविदा नौकरियां कम हुई जबकि 2014 की इसी अवधि में 1.2 लाख की वृद्धि हुई थी।

• सर्वेक्षण में पाया गया है कि रत्न एवं आभूषण क्षेत्र में 2015 के दौरान 19000 नौकरियां कम हुई और हथकरघा/पावरलूम में 11000 नौकरियां कम हुई।

• चमड़े और ऑटोमोबाइल (स्वचालित कार) क्षेत्र में 8000 नौकरियां कम हुई और परिवहन क्षेत्र में 4000 नौकरियों की कमी दर्ज की गयी।

सर्वेक्षण के बारे में

• श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अंतर्गत, श्रम ब्यूरों ने 2008-09 के वैश्विक संकट के बाद से तिमाही सर्वेक्षण चालू किया जिसका उद्देश्य आठ महत्वपूर्ण क्षेत्रों के रोजगार पर प्रभाव का आकलन करना था।

• वस्त्र, चमड़ा, धातु, रत्न एवं आभूषण, परिवहन, सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) और हथकरघा।