सूर्यामित्र (Suryamitra-Economy for Competitive Exams)

Download PDF of This Page (Size: 182K)

सूर्यामित्र कौन हैं?

र्स्यूाामित्र कुशल तकनीशियन होते हैं जो सौर ऊर्जा संचालित पैनलों, सौर ऊर्जा संयंत्रों और उपकरणों की स्थापना, संचालन, सुधार तथा मरम्मत आदि करते हैं। (उदाहरण :सौर कुकर, सौर हीटर (गरम करने वाला उपकरण), सौर पंप (गैस, द्रव या हवा बलपूर्वक निकालने या भरने का यंत्र) आदि)

राष्ट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान

• यह नवीन एवं नवीकरणीय मंत्रालय की एक स्वायत्त संस्था है, जो सौर ऊर्जा क्षेत्र की सर्वोच्च राष्ट्रीय अनुसंधान एवं विकास संस्था है।

• भारत सरकार ने सिंतबर 2013 में 25 साल पुराने सौर ऊर्जा केंद्र को राष्ट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान के रूप में एक स्वायत्त संस्था में परिवर्तित किया, इसका उद्देश्य राष्ट्रीय सौर मिशन (नियोग) को लागू करने में और अनुसंधान, प्रौद्योगिकी तथा अन्य संबंधित कार्यो में समन्वय स्थापित करने के लिए नवीन एवं नवीकरणीय मंत्रालय की सहायता करना है।

र्स्यूाामित्र पहल

• ”सूर्यामित्र” एक आवासीय कार्यक्रम है, जो पूरी तरह से सरकार दव्ारा वित्त पोषित है और भारतीय सौर ऊर्जा संस्थान दव्ारा लागू किया जा रहा हैं।

• विश्वविद्यालय, पॉलिटेकिनिक (ऐसा महाविद्यालय जहाँ अनेक वैज्ञानिक तथा तकनीकी विषय पढ़ाए जाते हैं), आईटीआई आदि संस्थान देश में विभिन्न स्थानों पर सूर्यामित्र कौशल विकास कार्यक्रम क्रियान्वित कर रहे हैं।

• इस प्रकार सूर्यामित्र पहल बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा कर रही है। करीब 80 प्रतिशत सूर्यामित्रों को अच्छे वेतन के साथ विभिन्न सौर उद्योगों में रोज़गार मिला है। बाकी सूर्यामित्र सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उद्यमी बन रहे हैं।

• र्स्यूाामित्र पहल मेक इन इंडिया कार्यक्रम का भी हिस्सा है। सूर्यामित्र पाठयक्रम 600 घंटे (यानी 3 महीने) का एक कौशल विकास कार्यक्रम है जिसे सौर ऊर्जा संयंत्र और उपकरण की स्थापना, प्रचालन और रखरखाव में कुशल श्रमिक तैयार करने के लिए बनाया गया है।

• नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने अगले मंत्रालय ने अगले 3 साल में सौर ऊर्जा क्षेत्र में 50,000 ”सूर्यामित्र” (कुशल श्रमिक) तैयार करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। अभी तक सूर्यामित्र कार्यक्रम के तहत 3200 से अधिक लोगों को प्रशिक्षित किया गया है। वित्तीय वर्ष 2016-17 के लिए लक्ष्य 7000 सूर्यामित्र को प्रशिक्षित करना है।

सूर्यामित्र मोबाइल (गतिशील) एप्लिकेशन (औपचारिक प्रार्थना)

• ”सूर्यामित्र” एक जीपीएस आधारित मोबाइल ऐप है जिसे राष्ट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान दव्ारा बनाया गया है।

• यह एप्लिकेशन एक उच्च प्रौद्योगिकी मंच है, जो हजारो कॉल को एक साथ संभाल सकता है और कुशलता से सूर्यामित्र की प्रत्येक उपस्थिति की निगरानी कर सकती है।

egRo

• 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा संयंत्रों के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को प्राप्त करने और बनाए रखने के लिए सौर ऊर्जा के क्षेत्र में 6.5 लाख प्रशिक्षित कर्मियों की आवश्यकता है। यह पाठयक्रम सौर उद्योग की आवश्यकता के अनुसार बनाया गया हैं।

• ग्राहकों को उनके स्थान पर गुणवत्ता वाली स्थापना, मरम्मत और ओ एंड एम सेवायें देने से रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

• सूर्यामित्र मोबाइल ऐप देश में सौर उत्पादों की मांग बनाने में और सूर्यामित्र के लिए रोजगार और व्यापार के अवसरों बनानें मे एक प्रभावी उत्प्रेरक के रूप में कार्य करेगा।