राष्ट्रीय सौर मिशन (दूतमंडल) (National solar Mission – Environment And Economy)

Download PDF of This Page (Size: 137K)

• अगस्त 2015 में केंद्र सरकार दव्ारा राष्ट्रीय सौर मिशन (दूतमंडल) के लक्ष्य में परिवर्तन करके ग्रिड (जाल) कनेक्टेड (संबंध) सोलर (सौर) पावर (शक्ति) प्रोजेक्ट (परियोजना) का लक्ष्य 2022 तक 20000 मेगावॉट से बढ़ाकर 1 लाख मेगावॉट कर दिया गया है।

• 1 लाख मेगावॉट के लक्ष्य को हासिल करने के लिए छत पर लगाए जाने वाले सोलर (सौर) प्रोजेक्ट (परियोजना) तथा मध्यम और वृहद् सोलर प्रोजेक्ट्‌स लगाने की योजना है।

• नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने इस लक्ष्य की प्राप्ति हेतु दो श्रेणियाँ निर्धारित की हैं-

• श्रेणी 1 -छत पर लगाए जाने वाले सोलर प्रोजेक्ट्‌स दव्ारा 40000 मेगावॉट सौर ऊर्जा का उत्पादन

• श्रेणी 2- समन्वित प्रयासों दव्ारा 60000 मेगावॉट ऊर्जा का उत्पादन। इसके अंतर्गत- बेराजगार युवाओं व किसानों दव्ारा सौर ऊर्जा परियोजानाओं के विकेन्द्रीकृत उत्पादन के लिए योजना, सार्वजनिक उद्यमों, वृहद् निजी क्षेत्रों/आईपीपीएस, भारतीय सौर ऊर्जा प्राधिकरण, राज्य सरकारों की नीतियां, आदि के दव्ारा ऊर्जा का उत्पादन सम्मिलित है।