प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PM Currency Plan –Government Plans)

Download PDF of This Page (Size: 169K)

उद्देश्य

अपेक्षित लाभार्थी

मुख्य विशेषताएं

• युवाओं को रोज़गार खोजकर्ता से रोजगार सृजनकर्ता बनाना

• ऐसे उद्यमों को औपचारिक वित्तीय प्रणाली के तहत लाकर तथा उन्हें सस्तें ऋण उपलब्ध कराकर ’गैर- वित्तपोषित को वित्तपोषित” करना।

• सूक्ष्म इकाइयें और सूक्ष्म वित्तीय संस्थाओं (एमएफआईएस) का विकास एवं उन्हें पुनर्वित प्रदान करना

• कोई भी भारतीय नागरिक जिसके पास गैर-कृषि क्षेत्र के लिए व्यवसाय की योजना हो

• यह एक छोटे ऋणी को गैर-कृषि आय उत्पादक गतिविधियों के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के सभी बैंको, जैसे-पीएसयू बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक और कोआपरेटिव बैंक, निजी बैंक, विदेशी बैंक, सूक्ष्म वित्तीय संस्थाएं (एमएफआईएस) और गैर -बैंकिंग वित्तीय कंपनी (जनसमूह) (एनबीएफसी), से 10 लाख रु. तक के ऋण लेने हेतु सक्षम बनाती है।

• मुद्रा बैंक (माइक्रो यूनिट्‌स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी बैंक) (ईकाई विकास और परिस्कृत) कार्यस्थान अधिकोष) दव्ारा 3 प्रकार के ऋण आवंटित किए जाएंगे-

o शिशु: 50,000 रु. तक के ऋण

o किशोर: 50,000 से 5 लाख के तक ऋण

o तरुण: 5 लाख से 10 लाख तक के ऋण

• प्रधान मंत्री मुद्रा योजना के तहत दिए जाने वाले ऋण के लिए कोई सब्सिडी नहीं दी जाती है।