कारवाड-स्वेज नहर के पूर्व में स्थित भारत का सबसे बड़ा नौ सैनिक संचालन केन्द (India is located in the east of the Suez Canal Karwad nine soldiers operating the center of Buda – Science And Technology)

Download PDF of This Page (Size: 173K)

§ आई.एन.एस. वज्रकोश तथा आई.एन.एस. कदम्ब (जो आई.एन.एस. वज्रकोश से 20 किमी दूर स्थित है) सहित कारवाड़ नौसैनिक अड्डा 1000 एकड़ में फैला है तथा स्वेज नहर के पूर्व में स्थित विश्व का सबसे बड़ा नौसैनिक अड्डा है।

§ इस केन्द्र पर दो विमानवाहक पोत, 10 पनडुब्बियों सहित आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित बहुत से वायुयानों को स्थान दिया जा सकता है।

§ यहाँ 6,500 टन भार उठाने वाले सभी युद्धक पोतों के मरम्मत आदि कार्यो को संपन्न किया जा सकता है यद्यपि विमानवाही युद्धक पोतों को शुष्क बंदरगाह में स्थापित करने की व्यवस्था उपलब्ध नहीं है।

§ कारवाड़ के निकट हाल ही में आई.एन.एस. वज्रकोश केन्द्र की स्थापना की गई है।

§ पश्चिमी समुद्र तट पर आई.एन.एस. वज्रकोश प्रक्षेपास्त्रों, शस्त्रों और उपकरणों का विशाल संग्रह स्थल होगा। यह एक ऐसा केंद्र होगा जहाँ से सभी युद्धपोतों और वायुयानों को अस्त्र-शस्त्रों से सुसजिज्त किया जा सकेगा।

कारवाड़ का ही चयन क्यों?

§ पश्चिमी समुद्री तट पर बाम्बे और कोचीन बंदरगाहों पर वाणिज्यिक आवागमन का अत्यधिक दबाव है।

§ पाकिस्तानी वायु सेना की प्रहारक क्षमता से दूर होने के कारण, नौ सैनिक केन्द्र के रूप में कारवाड को चुना गया है। इस केंद्र से देश के विविध स्थलों पर सैन्य क्षमताओं को समान समय में तैनात किया जा सकेगा।