इम्प्रिन्ट इंडिया (प्रभाव भारत) कार्यक्रम (Impact India Programme –Science And Technology)

Download PDF of This Page (Size: 167K)

• माननीय राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी ने ’इम्पैक्टिंग रिसर्च (खोज) इनोवेशन (नवीन प्रक्रिया) एंड (और) टेक्रोलाजी इंडिया’ (भारत) का शुभारंभ किया। यह भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों तथा भारतीय विज्ञान संस्थानों का संयुक्त कार्यक्रम है।

• इम्प्रिन्ट इंडिया’, इंजीनियरिंग तथा तकनीकी की चुनौतियों को हल करने से संबंधित अनुसंधानों के लिए एक रोड मैष विकसित करेगा। ये अनुसंधान भारत के लिए महत्वपूर्ण दस तकनीकी क्षेत्रों में होंगे।

• यह कदम तकनीकी संस्थाओं को उन क्षेत्रों में अनुसंधान करने के लिए प्रोत्साहित करेगा जिनके लिए देश विदेशी तकनीकी पर निर्भर रहता है। इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य देखभाल, सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, संधारणीय नैनो-तकनीकी हार्डवेयर, जल संसाधन तथा नदी प्रणाली, उन्नत पदार्थ, विनिर्माण, सुरक्षा तथा रक्षा और पर्यावरण तथा वातावरण सम्मिलित हैं।

इस पहल के उद्देश्य-

• समाज के लिए उपयुक्त क्षेत्रों को चिन्हित करना जिनमें नवोन्मेष की आवश्यकता है।

• इन क्षेत्रों में अनुसंधान के लिए उच्च वित्तीय सहायता सुनिश्चित करना।

• लेगों के जीवन स्तर पर अनुसंधानों के प्रभाव का आकलन करना।