प्लेेनेट-एक्स (Planet-x Science And Technology)

Download PDF of This Page (Size: 166K)

सुर्खियों में क्यों?

• कैलिफोर्निया प्रौद्योगिकी संस्थान में शोधकर्ताओं को सौर मंडल के बाहरी हिस्से में एक पिंड के होने का प्रमाण मिला है जो वास्तविक नौवाँ ग्रह हो सकता है।

• इसे प्लनेट नाइल उपनाम दिया गया है। इसका द्रव्यमान पृथ्वी का लगभग 10 गुना है और नेपच्यून की तुलना में इसकी कक्षा की दूरी सूर्य से लगभग 20 गुना अधिक है।

यह निष्कर्ष कैसे निकाला गया?

• इसकी उपस्थिति का अनुमान छह पहले से ज्ञात पिंडो के विशेष समूह जो नेपच्यून ग्रह से आगे की कक्षा में हैं, से लगाया गया है।

• यह कहा जाता है कि इस बात की प्रायिकता केवल 0.007 प्रतिशत है कि यह क्लस्टरिंग मात्र एक संयोग है। इसके बजाय, एक ग्रह जिसका द्रव्यमान पृथ्वी का 10 गुना है, ने इन छ: पिंडो को उनकी अनूठी दीर्घवृत्तीय कक्षाओं में भेजा है और उनको अक्ष से झुका दिया है।

वकीपर बेल्ट क्या हैं?

• यह नेपच्यून की कक्षा से आगे सूर्य की परिक्रमा करने वाले बर्फीलें पिंडो का एक समतल छल्ला है।

• यह तीन आधिकारिक तौर पर मान्यता प्राप्त बौने ग्रहों का घर है: प्लूटो, हौमिया और मेकमेक।