शहरी स्वास्थ्य पर वैश्विक विवरण (Details on Global Urban Health –Social Issues)

Download PDF of This Page (Size: 170K)

सुर्खियों में क्यों?

”शहरी स्वास्थ्य पर वैश्विक विवरण: सतत विकास के लिए न्यायसंगत और स्वस्थ्य शहर” को हाल ही में डब्ल्यू एच ओ और राष्ट्र ह्यूमन सेटलमेंट प्रोग्राम ( समझौता कार्यक्रम) (un-habitat) दव्ारा जारी किया गया था।

रिपोर्ट (विवरण) के निष्कर्ष

• यह रिपोर्ट यह प्रकट करती है कि शहरों में, स्वास्थ्य में प्रगति न केवल स्वास्थ्य प्रणालियों की सक्षमता पर निर्भर करती है, बल्कि स्वस्थ शहरी वातावरण पर भी निर्भर करती है।

• गैर संचारी रोग वर्तमान मानव स्वास्थ्य के लिए केवल एक खतरा मात्र नहीं हैं बल्कि इसके महत्वपूर्ण आर्थिक निहितार्थ भी हैं।

• गैर संचारी रोग जैसे हृदय रोग, मधुमेह और कैंसर 2012-2030 की अवधि के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था को 6.2 ट्रिलियन तक का नुकसान पहुँचा सकते हैं।

• शहरीकरण और उससे जुड़ी जीवन शैली शहरों में गैर संचारी रोगों की वृद्धि को बढ़ावा दे सकती हैं।

• शहरीकरण के लिए अपर्याप्त नियोजन, सामाजिक और पर्यावरणीय असंवहनीयता उत्पन्न कर रहा है।

• भारत और चीन में, हृदय और मानसिक स्वास्थ्य रोग सबसे बड़े आर्थिक खतरे उत्पन्न कर रहे हैं, इसके बाद मधुमेह और कैंसर जैसे रोग बड़े खतरे हैं।