नौसेना ने महिलाओं को स्थायी नियुक्ति प्रदान की (Navy Women's Permanent Appointment – Social Issues)

Download PDF of This Page (Size: 159K)

§ हाल ही में लैंगिक बाधाओं को तोड़ते हुए भारतीय नौसेना ने सात महिला अधिकारियों को स्थायी नियुक्ति प्रदान की है और 2017 से आठ शाखाओं में स्थायी कमीशन लागू करने की योजना बनाई है।

§ हालांकि यह उनकी मेडिकल (चिकित्सा-शास्त्र से संबंधित) फिटनेस (पूरी तरह से स्वस्थ्य) और अच्छी वार्षिक गोपनीय विवरण (एसीआर) के अधीन है।

§ 2017 में शिक्षा, कानून, मौसम विज्ञान, हवाई यातायात नियंत्रण, रसद पर्यवेक्षण, समुद्री टोही विमान पर पायलट और नौसेना कंस्ट्रक्टर्स (रचना करना) आदि शाखाओं में भी स्थायी कमीशन (आयोग) लागू किया जायेगा।

पृष्ठभूमि

§ अब तक महिला अधिकारियों को थल और वायु सेना के केवल कुछ चुनिंदा विभागों में ही स्थाई आयोग की अनुमति दी गई थी।

§ नौसेना में अब तक केवल 14 वर्षो के लिए शॉर्ट सर्विस कमीशन (वर्ग सेवा आयोग) की ही अनुमति थी, जिसके कारण महिला अधिकारी पेंशन से वंचित रह जाती थीं।

§ भारतीय वायु सेना ने पिछले वर्ष लड़ाकू वर्ग में महिलाओं के प्रवेश की घोषणाा की और इस प्रकार वह पहला भारतीय सशस्त्र बना जिसमें लड़ाकू भूमिका में महिलाओं के प्रवेश की अनुमति दी गई। हालांकि ऐसा केवल प्रायोगिक आधार पर किया गया है।