सतत विकास लक्ष्य और महिलाय (Sustainable Development Goals And Women-Social Issues)

Download PDF of This Page (Size: 186K)

सतत विकास लक्ष्य

• सतत विकास लक्ष्य संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों दव्ारा संयुक्त राष्ट्र सतत विकास शिखर सम्मेलन में अपनायें गए 17 लक्ष्य हैं। इन लक्ष्यों को वर्ष 2030 तक, यानी अगले पंद्रह वर्षो में, सभी सदस्य देशों दव्ारा प्राप्त किया जाना है।

• ये लक्ष्य सहस्राब्दि विकास लक्ष्यों की तुलना में अधिक व्यापक हैं और इनसे सतत विकास का लक्ष्य प्राप्त किया जाना संभव होगा।

महिलाओं से संबंधित सतत विकास लक्ष्य

लक्ष्य 2: भूख की समाप्ति

• किशोरियों, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और वृद्ध व्यक्तियों की पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा करना।

लक्ष्य 3: अच्छा स्वास्थ्य और स्वस्थ जीवन

• वैश्विक मातृत्व मृत्यु दर की प्रति 100,000 जीवित जन्म पर 70 से कम करना।

• परिवार नियोजन, जागरूकता और शिक्षा के साथ यौन और प्रजनन स्वास्थ्य देखभल सेवाओं की सार्वभौमिक पहुँच।

• राष्ट्रीय रणनीतियों और कार्यक्रमों में प्रजनन स्वास्थ्य को शामिल करना।

लक्ष्य 4: शिक्षा की गुणवत्ता

• महिलाओं और पुरुषों, दोनों के लिए सस्ती और गुणवत्ता पूर्ण तकनीकी, व्यावसायिक और तृतीयक शिक्षा सुनिश्चित करना।

• ऐसी शिक्षा सुविधाओं का विकास और अवनयन करना जो महिलाओं के प्रति संवेदनशील हो और सभी के लिए सुरक्षित, अहिंसक, समावेशी और प्रभावी शिक्षण वातावरण प्रदान करे।

लक्ष्य 5: लैंगिक समानता

• महिलाओं और लड़कियों के ख़िलाफ सभी जगह सभी प्रकार के भेदभाव का अंत।

• मानव तस्करी, यौन शोषण और अन्य प्रकार के सहित सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा के सभी रूपों को समाप्त करना।

• बाल विवाह, बलात विवाह और महिला जननांग कर्तन जैसी सभी कुप्रथाओं को समाप्त करना।

• राजनीतिक, आर्थिक और सार्वजनिक जीवन में निर्णय लेने और जीवन के सभी स्तरों पर नेतृत्व के लिए महिलाओं की पूर्ण और प्रभावी भागीदारी के लिए समान अवसर सुनिश्चित करना

• आर्थिक संसाधनों पर समान अधिकार के साथ ही जमीन और अन्य संपत्ति, वित्तीय सेवाआंे, पैतृक और प्राकृतिक संसाधनों के स्वामित्व और नियंत्रण पर समान अधिकार देना।

• महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के साथ अन्य तकनीकों के उपयोग को बढ़ावा देना।

• महिला सशक्तिकरण और लैंगिक समानता को बढ़ावा देने के लिए समर्थ नीतियों और प्रवर्तनीय कानून को मज़बूत बनाना।

लक्ष्य 6: स्वच्छ जल और साफ-सफाई

• महिलाओं और लड़कियों की जरूरतों पर विशेष ध्यान देते हुए सभी के लिए स्वच्छता और पानी के सतत प्रबंधन की उपलब्धता सुनिश्चित करना और खुले में शौच करने की प्रवृत्ति को खत्म करना।

लक्ष्य 8: संतोषजनक काम और आर्थिक विकास

• सभी महिलाओं और पुरुषों को पूर्ण और उत्पादक रोज़गार प्रदान करना।

• समान कार्य के लिए समान वेतन।

• श्रम अधिकारों की रक्षा करना और सभी श्रमिकों को सुरक्षित कार्य वातावरण प्रदान कराना।

लक्ष्य 10: असमानताओं को कम करना

• आयु, लिंग, विकलांगता, जाति, धर्म, या अधिक या अन्य स्थिति को मद्देनज़र रखे बिना सभी के लिए सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक समावेशी विकास को बढ़ावा देना।

लक्ष्य 10: संधारणीय शहर और समुदाय

• संधारणीय परिवहन व्यवस्था के निर्माण में महिलाओं की आवश्यकताओं को ध्यान रखना।

• सुरक्षित, समावेशी और सुलभ सार्वजिनक स्थलों तक सार्वभौमिक पहुँच प्रदान करना।

लक्ष्य 13: जलवायु परिवर्तन

• महिलाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए जलवायु परिवर्तन से संबंधित योजना और प्रबंधन क्षमता में वृद्धि करना।

लक्ष्य 16: शांतिपूर्ण और समावेशी संस्थान

• सभी प्रकार की हिंसा और संबंधित मृत्यु दर को कम करना।

• यातना, दुरुपयोग, शोषण, तस्करी और बच्चों के खिलाफ हर प्रकार की हिंसा का अंत।