भारत में वृद्धों की बढ़ती संख्या (The Increasing Number of Elders In India –Social Issues)

Download PDF of This Page (Size: 169K)

सुर्ख्यााेिं में क्यों?

• सांख्यिकी मंत्रालय ने हाल ही में ”भारत में बुजुर्ग, 2016” नामक एक विवरण जारी की है।

• आयु निर्भरता अनुपात: वृद्ध आश्रितों (64 वर्ष से ऊपर के लोगों की कार्यकारी आयु वर्ग की आबादी (15 और 64 वर्षो के बीच) से अनुपात।

रिपोर्ट (विवरण) की मुख्य विशेषताएँ

• 60 वर्ष से अधिक आयु वाले भारतीयों की संख्या में 2001 से 2011 तक की 35 प्रतिशत वृद्धि हुई है।

• केरल में बुजुर्गो की आबादी का प्रतिशत अधिकतम है तथा यह राज्य की आबादी का 12.6 प्रतिशत है।

• इसके अलावा अधिक बुजुर्ग आबादी वाले राज्यों में गोवा, तमिलनाडु, पंजाब और हिमाचल प्रदेश सम्मिलित हैं।

• 71 प्रतिशत बुजुर्ग गाँवों में निवास करते हैं, जबकि 29 प्रतिशत शहरों में रहते हैं।

• अरुणाचल प्रदेश में बुजुर्गो की आबादी का प्रतिशत न्यूनतम है जहाँ राज्य की आबादी का केवल 4.6 प्रतिशत 60 वर्ष से ऊपर हैं।

• भारत का आयु निर्भरता अनुपात भी 2001 में 10.9 प्रतिशत से बढ़कर 2011 में 14.2 प्रतिशत हो गया है।

• बुजुर्गो के बीच साक्षरता का अनुपात 1991 में 27 प्रतिशत था जो 2011 में बढ़कर 47 प्रतिशत हो गया है।