पारंपरिक औषधि (Traditional Medicines – Social Issues)

Download PDF of This Page (Size: 163K)

खबर में क्यों?

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आयुष मंत्रालय और विश्व स्वास्थ्य संगठन के बीच पारंपरिक चिकित्सा के क्षेत्र में होने वाले सहयोगी गतिविधियों पर समझौते के लिए अपनी मंजूरी दे दी है।

यह कैसे सहायक होगा?

• विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ दीर्घकालिक सहयोग से आयुष प्राणाली की अंतराष्ट्रीय स्वीकार्यता बढ़ेगी और उसकी ब्रांडिंग में सुधार होगा।

• यह शिक्षा के माध्यम से आयुष चिकित्सा प्रणालियों के बारे में जागरूकता पैदा करेगा।

• यह कार्यशालाओं और विनिमय कार्यक्रमों के माध्यम से कौशल विकास और क्षमता निर्माण में मदद करेगा।

• यह सदस्य राज्यों के बीच आयुष का समर्थन और सूचना का प्रसार सुलभ बनाएगा।

• आयुष प्रणालियों के संदर्भ में विश्व स्वास्थ्य संगठन पारंपरिक चिकित्सा रणनीति 2014-2023 के कार्यान्वयन में सहयोग का बढ़ावा देने के लिए तीसरे पक्षों के साथ सहयोग में मदद मिलेगी।