विश्व आर्थिक फोरम के वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक (World Economic Forum's Global Competitiveness Index-Economy)

Get top class preparation for IAS right from your home: Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

Download PDF of This Page (Size: 155K)

• विश्व आर्थिक मंच के इस वर्ष के वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक में भारत 16 पायदान ऊपर चढ़ कर 140 देशों को सूची में 55वें स्थान पर पहुंच गया है।

सुधार वाले क्षेत्र कौन से हैं?

व्यापक आर्थिक स्थिरता, संस्थानाेे की गुणवत्ता जैसे कुछ क्षेत्रों में भारत सुधार का साक्षी बना हालांकि, अन्य क्षेत्र भी ध्यान देने योग्य हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

• तकनीकी तत्परता

• श्रम बाजार

• भारत में कारोबार करने में बाधाएं

अन्य निष्कर्ष

• इस सूची में शीर्ष पर क्रमश: स्विट्‌जरलैंड, सिंगापुर, अमेरिका, जर्मनी और नीदरलैंड जैसे देश हैं।

• उभरते हुए बड़े बाजारों में दक्षिण अफ्रीका 7 पायदान प्रगति करके 49वें स्थान पर पहुंच गया है जबकि चीन 28वें स्थान पर स्थिर बना हुआ है। इंडोनेशिया (तीन पायदान नीचे) 37वें स्थान पर है और ब्राजील 75वें स्थान पर है।

वैश्विक प्रतिस्पर्धा रिपोर्ट (विवरण) एवं वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक

1. जीसीआर विश्व आर्थिक फोरम (मंच) दव्ारा वार्षिक आधार पर प्रकाशित किया जाने वाला एक रिपोर्ट है।

2. वर्ष 2004 से वैश्विक प्रतिस्पर्धा रिपोर्ट दव्ारा विभिन्न राष्ट्रों की Xavier जेवियर () Sala-i-Martin एवं Elsa V. Artadi दव्ारा विकसित वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक के आधार पर रैंकिंग (अत्यंत कष्टदायी) की जाती है।

3. वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक दव्ारा संस्थाओं, नीतियों एवं कारकों के उन समुच्चयों का मापन किया जाता है जो संधारणीय मार्ग एवं मध्यावधिक आर्थिक संवृद्धि स्तर निर्धारित करते हैं।

Developed by: