ग्राम उदय से भारत उदय अभियान (India Uday Abhiyan from Village Umai – Act Arrangement of the Governance)

Get unlimited access to the best preparation resource for IAS : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

सुर्ख़ियों में क्यों?

• राज्यों और पंचायतों के सहयोग से केंद्र सरकार ने 14 अप्रैल (डॉ. वी. आर. अम्बेडकर की जयंती) से 24 अप्रैल (राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस) 2016 तक ‘ग्राम उदय से भारत उदय अभियान’ (गांव स्वशासन अभियान) आयोजित करने का निर्णय लिया।

अभियान की मुख्य विशेषताएँ

• अभियान का उद्देश्य गांवों में सामाजिक सदभाव बढ़ाने, पंचायती राज को मजबूत बनाने, ग्रामीण विकास को बढ़ावा देने और किसानों की प्रगति के उन्नत प्रयास करने के लिए देशव्यापी प्रयास करना है।

• सभी ग्राम पंचायतों में एक ‘सामाजिक सदभाव कार्यक्रम’ आयोजित किया जाएगा। यह पंचायती राज मंत्रालय और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया।

• इस कार्यक्रम में ग्रामीणजनों ने डॉ. अम्बेडकर के प्रति सम्मान व्यक्त किया और सामाजिक सदभाव को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की।

• सामाजिक न्याय को बढ़ावा देने वाली विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की गयी।

• ‘ग्राम किसान सभाओं’ का आयोजन किया गया, जहां कृषि योजनाओं के बारे में किसानों को जानकारी उपलब्ध कराई गयी, जैसे फसल बीमा योजना, सामाजिक स्वास्थ्य कार्ड आदि।

• इसके अलावा पांचवी अनुसूची वाले क्षेत्रों के 10 राज्यों के आदिवासी महिला अध्यक्षों की एक राष्ट्रीय बैठक विजयवाड़ा में आयोजित की जाएगी, जिसकी केंद्रीय विषयवस्तु पंचायत और आदिवासी विकास होगी।

Developed by: