महिला ई-हाट (Mahila E-Haat – Social Issues)

Get top class preparation for IAS right from your home: Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

• महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने महिला ई-हाट का शुभारंभ किया। यह महिला सशक्तिकरण को मजबूती प्रदान करने के लिए महिला उद्यमियों हेतु एक विपणन पोर्टल है।

महिला ई-हाट क्या है?

• ‘महिला ई-हाट’ एक ऑनलाइन मंच है, जहाँ महिला उद्यमी अपने उत्पादों को सीधे बेच सकती हैं।

• महिलाओं उद्यमियों को अपने उत्पाद ऑनलाइन बेचने के लिए किसी भी प्रकार के शुल्क के भुगतान की जरूरत नहीं है।

• इस पोर्टल को राष्ट्रीय महिला कोष के तहत 10 लाख रुपये का निवेश करके स्थापित किया गया है। राष्ट्रीय महिला कोष, महिलाओं के सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अंतर्गत एक स्वायत्त संस्था है।

• इसके तहत पंजीकृत होने के लिए केवल एक ही मानंदड है- विक्रेता (महिला या महिलाओं के स्वयं सहायता समूह के सदस्य) की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। इस मानदंड का निर्धारण बालश्रम के समस्या के कारण किया गया है, जिससे नाबालिग लड़कियों को काम पर न लगाया जाए।

Developed by: