कनाडा का भूगोल (Geography of Canada) Part 6

Download PDF of This Page (Size: 172K)

उद्योग:-

  • पेट्रोलियम:- यहाँ 73 के बाद कई बड़े तेल शोधन और पेट्रो रसायन उद्योग का विकास हुआ है।

  • ऐडीमोनसन

  • केलगरी

  • रिजीना

  • विनीपेग

रामाउल्ड कनाडा का सबसे बड़ा तेल शोधन केन्द्र है। यहां का प्रोडक्ट (उत्पादन) यूनिटीबाय (संयोग, निकट) में जाता है, जहां कनाडा का सबसे बड़ा तेल शोधन केन्द्र हैं।

  • लोहा इस्पात-इसके तीन प्रमुख क्षेत्र हैं-

  • ओंटारियो झील का पश्चिमी तट जहाँ हैमिल्टन सबसे प्रमुख केन्द्र है। इसे कानाडा का बर्मिघम भी कहते है।

  • सुपीरियर और हयूरन झीलों के संगम या सू नहर क्षेत्र जहां सालट सेंट मेरी प्रमुख केन्द्र है।

  • पूर्व स्थित नोवा स्कोशिया जहाँ सिडनी मुख्य केन्द्र है।

  • कागज उद्योग- इसका विकास क्यूबेक और ओंटारियो राज्यों में हुआ है। क्यूबेक, मांट्रियल, ओटावा, हैमिल्टन, किंग्सटन, सेंट जॉन प्रमुख केन्द्र है। वर्तमान में कनाडा अखबारी कागज का सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक है।

  • टोरंटो आर ओटावा में इंजिनयरिंग (अभियंता) उद्योग के बड़े केन्द्र है।

  • वेन कोबर में समुद्री उत्पाद परिष्करण, आटा उद्योग तथा कागज उद्योग विकसित है।

  • प्रिंस एडवर्ड आइलैंड-मछली उद्योग, चमड़ा उद्योग, इलेक्टॉनिक (विद्युत) तथा फूटलूज उद्योग के लिए प्रसिद्ध है। इसकी तुलना सिंगापुर और हांगकांडा से की जा सकती है।

  • किटमैंट से अल्युमिनियम (एक प्रकार की चांदी के समान बड़ी हल्की धातु) उद्योग विकसित है।

जनसंख्या वितरण-यहां की 77प्रतिशत जनसंख्या नगरों में रहती है। 600 उत्तरी अक्षांश के उत्तर लगभग वीरान कनाडा है। यहां सिर्फ एस्किमो रहते हैं। प्रमुख जनसंख्या केन्द्र हैं-

  • दक्षिण पूर्वी कनाडा-जहाँ कनाडा की तीन चौथाई जनसंख्या रहती है।

  • दक्षिण-पश्चिम कनाडा (वेनकोवर) जहाँ 10 प्रतिशत जनसंख्या रहती है।

  • प्रेयरी प्रदेश में 10 प्रतिशत तथा अन्य क्षेत्रों में 5 प्रतिशत जनसंख्या रहती है।

मोट्रियल कनाडा का सबसे बड़ा बंदरगाह है जो सेंट लारेंस नदी दव्ारा जुड़ी हुई है।