यू एस ए का भूगोल (Geography of USA) Part 8

Download PDF of This Page (Size: 177K)

इन्हीं परिस्थितियों के संदर्भ में यू.एस.ए. की जलवायु को निम्न वर्गो में बाँटते हैं-

  • पश्चिमी यूरोप तुल्य जलवायु-इसका विस्तार पश्चिमी तट पर 400 अक्षांश से उत्तर में मिलता हैं। गर्म जलधारा के इसके बगल से गुजरने के कारण यहां का तापमान 00 c से नीचे नहीं उतरता। यह क्षेत्र सालोभर वर्षा प्राप्त करता है। वार्षिक वर्षा 100-250 से.मी. तक होती है। वार्षिक तापांतर 140 c से अधिक नहीं होता।

  • भूध्यसागरीय जलवायु-यह क्षेत्र पश्चिमी तट पर 300 -400 एन अक्षांशों के बीच स्थित है, मुख्यत: कैलिफोर्निया राज्य में विस्तृत है। वर्षा जाड़े की ऋतु में होती है। जाड़े में तापमान 10-120 c तथा गर्मी में 20-250 c तक रहता है।

  • मध्य महादव्ीपीय जलवायु-यह सही अर्थो में प्रेयरी प्रदेश की जलवायु है। वर्षा बहुत कम 50 से.मी तक वह भी ग्रीष्मकाल में होती हैं। जाड़े का तापमान 00 c तथा गर्मी में 20-300 c तक होता है।

  • सेंट लारेंस जलवायु-यह वृहत झीलों के पूर्वी भाग की जलवायु हैं, जहां शीतोष्ण चक्रवात से सालोभर वर्षा होती है वर्षा की मात्रा 50-100 से.मी तक होती है। जाड़े का तापमान -100 c गर्मी का तापमान 200 c तक होता है।

  • पूर्वी तटीय जलवायु -यह प्रदेश 300 -450 N अक्षांशों के बीच पूर्वी भाग में स्थित है। वर्षा मुख्यत: गर्मी में एस.ई. ट्रेड (व्यापार) विंगस से होती है। औसत वर्षा 100 से.मी. तक होती है। शीतकाल में तापमान 100 c और ग्रीष्मकाल में 250 c पाया जाता है।

  • उष्ण और आर्द्र जलवायु-यह यू.एस.ए. के दक्षिणी भाग में पाया जाता है। अधिकतर वर्षा गर्मी ऋतु में होती है। औसत वर्षा 200 से.मी तक होती है। गल्फस्ट्रीम के प्रभाव के कारण नार्थरस (उत्तर) का प्रभाव गौण से हो जाता है। जाड़े का तापमान 200 c और गर्मी का तापमान 300 c रहता है।

  • उष्ण मरुस्थलीय जलवायु-यह जलवायु पश्चिमी भाग में 200 -300 N अक्षांश के बीच, उरिजोना, द. कैलिफोर्निया और कॉलरेडो राज्य में मिलता है। यहां गर्मी का तापमान 320 c तथा जाड़े का तापमान 150 c होता है। औसत वार्षिक वर्षा 2 से.मी से 20 से.मी तक होती है। इन जलवायु प्रदेशों के अतिरिक्त अलास्का में ध्रुवीय तथा टैगा प्रकार की जलवायु पाई जाती है। इनके अलावा रॉकी प्रदेश में पर्वतीय जलवायु पाई जाती है।