दक्षिण अफ्रीका का भूगोल (Geography of South Africa) Part 7

Download PDF of This Page (Size: 176K)

खनिज संसाधन-

  • लौह अयस्क- यह अफ्रीका महादेश का सबसे बड़ा लौह अयस्क का उत्पादक देश है। अधिकांश लौह अयस्क के भंडार ट्रांसवाल एवं केप प्रांत के तटीय भाग में पाए जाते हैं। उत्तम श्रेणी का लौह अयस्क ट्रांसवाल की प्रिटोरिया एवं थारबजिम्मी की खानों से भारी मात्रा में प्राप्त होता है। थोड़ी मात्रा में नेटाल प्रांत में कुरामान की खानों से एवं केप प्रांत में पोस्टमासबर्ग क्षेत्र से प्राप्त होता है।

  • मैंगनीज -दक्षिण अफ्रीका विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मैंगनीज उत्पादक एवं निर्यात देश है। अधिकतर मैंगनीज का उत्पादन उत्तरी मध्यवर्ती पठारी क्षेत्र में होता है। मुख्य खानें किम्बरने कडासड्राप, सेरेस एवं पोस्टमासबर्ग में है।

  • तांबा एवं बॉक्साउट- यहाँ पर तांबा केप प्रांत एवं ट्रांसवाल प्रांतों की खानों से निकाला जाता है। केप प्राप्त में ओलिया एवं कानकोडिया की खानें तथा ट्रांसवाल के उत्तरी भाग में मेसिना क्षेत्र में पर्याप्त ताँबा निकाला जाता है। बॉक्साइट का अधिकांश उत्पादन उत्तरी नेटाल प्रांत से प्राप्त होता है।

  • सोना- सोना उत्पादन में यह विश्व में प्रथम है। यहाँ संपूर्ण अफ्रीका महादेश का लगभग 70 प्रतिशत सोना प्राप्त होता हैं। यहाँ सोना कई स्थानों से प्राप्त होता हैं। इनमें भी जोहांसबर्ग क्षेत्र सबसे महत्वपूर्ण है। यहाँ पर सोने की खाने 40 x 80 कि.मी. की पट्‌टी में फैली हैं। इसमें भी विटवाटर्स रेण्ड क्षेत्र का प्रथम स्थान है। सोना उत्पादन की अन्य खानें किम्बरले, मोनेटोफ, बारबटन, हाइउलबर्ग तथा बुलाओ हैं।

  • चाँदी- चाँदी उत्पादन में भी इस महादव्ीप में दक्षिण अफ्रीका का प्रथम स्थान है। यहाँ से विश्व की 9 प्रतिशत चाँदी निकाली जाती है। अधिकांश चाँदी ट्रांसवाल एवं नेटाल प्रांतों की खानों से प्राप्त की जाती है।

  • हीरा-हीरा उत्पादन में इस देश का तीसरा स्थान है। हीरा उत्पादन के लिए किम्बरले की खान विश्व विख्यात है। इसके अतिरिक्त जोहान्सबर्ग के निकट तथा पश्चिमी तट पर ल्यूडरिज, काली फ्रान्टीन एवं केपटाउन के निकट की अनेक खानों से औद्योगिक हीरे प्राप्त किए जाते हैं।

  • कोयला- दक्षिण अफ्रीका इसके उत्पादन में महादव्ीप में प्रथम तथा तीनों दक्षिणी महादव्ीपों में दव्तीय स्थान पर है। यहांँ से विश्व का 2 प्रतिशत कोयला निकाला जाता है। अधिकांश उत्पादन नेटाल एवं ट्रांसवाल राज्यों से प्राप्त होता है। अधिकांश कोयला विटामिनस श्रेणी का है तथा भारत से उत्तम है। मुख्य खनन केन्द्र विटबैंक बेरेनिर्मिंग, जोहान्सबर्ग, मिडलबर्ग (ट्रांसवाल), बीहीड, केरोलोना, आमेजजी, अश्चित, न्यू कैसिल (नेआल), कोल ब्रकु (ओ.एफ.एस) में है।