1857 का विद्रोह (Revolt of 1857) for Competitive Exams Part 10 for Competitive Exams

Get unlimited access to the best preparation resource for IAS : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

प्रमुख विचार

  • एक पूर्णतया देशभक्ति रहित और स्वार्थी सैनिक विद्रोह था जिसमें न कोई स्थानीय नेतृत्व था और न ही इसे सर्वसाधारण का समर्थन प्राप्त था।

-सीले

  • यह विद्रोह एक आकस्मिक प्रेरणा नहीं था अपितु एक सचेत संयोग का परिणाम था और वह एक सुनियोजित और सुसंगठित प्रयत्नों का परिणाम था जो अवसर की प्रतीक्षा में थे … साम्राज्य का उत्थान और पतन में चर्बी वाले कारतूसों के मामले नहीं होते।

-डिजिरेली

  • यह तथाकथित प्रथम राष्ट्रीय स्वतंत्रता संग्राम, न तो यह प्रथम न ही राष्ट्रीय तथा न ही स्वतंत्रता संग्राम था

-आर. सी. मजूमदार

  • एक तानाशाही शक्ति को अंत में तलवार की शक्ति से ही राज करना पड़ता है, चाहे वह उसे मखमल की म्यान में ही क्यों न रखे।

-एस एन सेन

Developed by: