मुद्रा का बैंक में रूपांतरण (Currency Conversion of Bank – Economy)

Get top class preparation for IAS/Mains General-Studies-I right from your home: fully solved questions with step-by-step explanation- practice your way to success.

Download PDF of This Page (Size: 112K)

§ सरकार ने भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) की एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी के रूप में मुद्रा लिमिटेड (सीमित) का रूपांतरण मुद्रा बैंक के रूप में तथा मुद्रा ऋण के लिए एक क्रेडिट (साख) गांरटी (जमानत/जिम्मेदारी) फंड (धन) की स्थापना करने को मंजूरी प्रदान किया है।

क्रेडिट (साख) गांरटी (भरोसा) फंड (धन) (सीजीएफ) के गठन का उद्देश्य

§ सीजीएफ के गठन का मुख्य उद्देश्य ऋण संवितरण में जुड़े मध्यस्थों, जैसे एमएफ/बैंक (अधिकोष)/एनबीएफसी अथवा अन्य वित्तीय सूक्ष्म और लघु इकाइयों, के ऋण जोखिम को कम करना है। एमएफआईएस अब पुनर्वित के लिए अथवा क्रेडिट (साख) गांरटी (जमानत) लिए राष्ट्रीय क्रेडिट गांरटी ट्रस्टी (न्यासी) कंपनी (संघ) लिमिटेड (सीमित) (एनसीजीटीसी) के साथ मुद्रा (सिडबी) बैंक के रूप में सदस्य ऋण संस्थान बन सकते हैं।

Developed by: