इंटरनेशनल (अंतरराष्ट्रीय) इंटेलेक्चुअल (बौद्धिक) प्रॉपर्टी (संपत्ति) इंडेक्स (सूचकांक) (International Intellectual Property Index) for IB-ACIO

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-1 : get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-1.

Download PDF of This Page (Size: 131K)

  • यह यू.एस. चैंबर (सदन) ऑफ (का) कॉमर्स (वाणिज्य) के ग्लोबल (विश्वव्यापी) इंटेलेक्चुअल (बौद्धिक) प्रॉपर्टी (संपत्ति) सेंटर (केन्द्र) (जीआईपीसी) दव्ारा जारी किया गया है।

  • 2017 के सूचकांक में भारत 45 देशों में से 43वीं रैंक (श्रेणी) (केवल पाकिस्तान और वेनेजुएला के ऊपर) के साथ निचले पायदान पर बना हुआ है।

  • यह सूचकांक 30 मानदंडो पर आधारित है जिसमें पेटेंट (अधिकार पत्र), कॉपीराइट (सर्वाधिकार) और ट्रेडमार्क (व्यापार चिन्ह) सुरक्षा, प्रवर्तन और अंतरराष्ट्रीय संधियों में सहभागिता आदि शामिल है।

समावेशी विकास सूचकांक

  • इसे विश्व आर्थिक मंच दव्ारा अपने ’इंक्लूसिव (सम्मिलित) ग्रोथ (विकास) एंड (और) डेवलपमेंट (विकास) रिपोर्ट (विवरण) 2017’ में जारी किया गया था।

  • भारत, पड़ोसी देशों चीन और पाकिस्तान से नीचे 79वें स्थान पर था तथा विकसशील अर्थव्यवस्थाओं में 60वें स्थान पर था। लिथुआनिया सूची में सर्वोच्च पायदान पर है।

  • समावेशी विकास सूचकांक (आईडीआई) 12 निष्पादन संकेतकों और तीन स्तंभों पर आधारित है।

  • संवृद्धि और विकास

  • समावेशन और इंटरजनरेशनल (अंतर पीढ़ीगत) इक्विटी (न्याय)

  • संधारणीयता

  • आईडीआई स्कोर (अंक) 1 से 7 के स्केल (नाप) पर आधारित हैं। उन्नत और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के आईडीआई स्कोर गरीबी की विभिन्न परिभाषाओं के कारण पूर्णतया तुलना के योग्य नहीं हैं।

इंडिया (भारत) इनोवेशन (नवाचार) इंडेक्स (सूचकांक)

सुर्ख़ियों में क्यों?

इंडिया इनोवेशन इंडेक्स विकसित करने हेतु विश्व आर्थिक मंच, नीति आयोग, विश्व बौद्धिक संपदा संगठन (डब्ल्यूआईपीओ) और कॉर्नेल यूनिवर्सिटी (विश्वविद्यालय) एक साथ मिलकर कार्य करेंगे।

ग्लोबल (विश्वव्यापी) इनोवेशन (नवाचार) इंडेक्स (सूचकांक) : जीआईआई

  • जीआईआई, नॉलेज (ज्ञान) पार्टनर (साझेदार) के रूप में सीआईआई के साथ वर्ल्ड (विश्व) इंटेलेक्चुअल (बौद्धिक) प्रॉपर्टी (धर्म) ऑर्गनाइजेशन (संगठन), कॉर्नेल यूनिवर्सिटी और आईएनएसईएडी दव्ारा सह-प्रकाशित है।

  • 2007 में स्थापना के बाद से ही यह नवाचार क्षमताओं और अन्य महत्वपूर्ण मानदंडो सहित 82 संकेतकों के उपयोग के परिणामों के आधार पर वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं की रैंकिंग (श्रेणी) करता आ रहा है।

  • वर्तमान जीआईआई 2016 में, 128 देशों में भारत 66वें स्थान पर है।

इंडिया (भारत) इनोवेशन (नवाचार) इंडेक्स (सूचकांक) के बारे में और अधिक जानकारी

  • यह ”अपनी तरह का पहला ऑनलाइन प्लेटफॉर्म (मंच)” होगा, जहां जीआईआई के संकेतक और विभिन्न राज्यों से भारत-केंद्रित आंकड़ों को समय-समय पर अपडेट (नवीनीकरण) किया जाएगा।

  • इंडिया इनोवेशन इंडेक्स में देश के सभी राज्यों के नवाचार प्रदर्शन का आकलन किया जाएगा और इस आधार पर उन्हें रैंकिंग प्रदान की जाएगी।

  • इस इंडेक्स (सूचकांक) को जीआईआई संकेतक में प्रयुक्त सर्वोत्तम प्रक्रियाओं के आधार पर और साथ ही भारतीय नवाचार पारितंत्र को वास्तव में प्रतिबिंबित करने वाले भारत-केंद्रित मापदंडो को सम्मिलित कर संरचित किया जाएगा।

  • यह इंडेक्स (सूचकांक) नवाचार और उप-सूचकांक के प्रमुख स्तंभों पर आधारित होगा, जो एक साथ मिलकर समावेशी विकास को बढ़ावा देने वाली नीतियों के निर्माण में सहायता करेगा।

  • इन स्तंभों में संस्थानों की सुदृढ़ता, मानव पूंजी एवं अनुसंधान की क्षमता, सहायक अवसरंचना और कारोबारी विशेषज्ञता का स्तर आदि सम्मिलित हैं।

  • 4-6 अक्टूबर, 2017 को नई दिल्ली में इंडिया (भारत) इकोनामिक (अर्थशास्त्र) समिट (स्वीकृत) के दौरान प्रथम रैंकिंग (श्रेणी) जारी किए जाने की संभावना है।

Developed by: