अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन) (आईएसएस) पर मानव उपस्थिति के 15 वर्ष (Fifteen Years of Human Presence at the International Space Station – Science and Technology)

Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-2 is prepared by world's top subject experts: get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-2.

• अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर लगातार मानव उपस्थित के 15 वर्ष पूर्ण हुए।

• 2 नवंबर 2000 को एक्सपीडिशन-1 जो प्रथम स्टेशन दल था, सोयुज टी एम-31 अंतरिक्षयान के भीतर गया।

• इसका पहला घटक 1998 में कक्षा में प्रक्षेपित किया गया था किन्तु प्रथम अभियान 2 नवंबर 2000 की तिथि पर पहुँचा। 15 देशों का प्रतिनिधित्व करती 5 अंतरिक्ष एजेंसियों (कार्यस्थानों) , ने 100 अरब डॉलर के अंतरिक्ष स्टेशन एजेंसी (roscosmos) , यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (कार्यस्थान) , कनाडा अंतरिक्ष एजेंसी और जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी इस परियोजना की प्राथमिक भागीदार अंतरिक्ष एजेंसियाँ हैं।

• अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष (आईएसएस) पृथ्वी की निचली कक्षा में अवस्थित एक अंतरिक्ष स्टेशन या एक रहने योग्य कृत्रिम उपग्रह है।

• चंद्रमा पृथ्वी की परिक्रमा करने वाला विशालतम पिंड है। आईएसएस पृथ्वी की कक्षा में सबसे बड़ा कृत्रिम पिंड है और अक्सर पृथ्वी से नग्न आंखों से देखा जा सकता है।

Developed by: