Science and Technology MCQs in Hindi Part 19 with Answers

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-1 : get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-1.

1 ‘स्नेक (नाग) रोबोट’ (यंत्र मानव) अथवा SAW (single (एक) actuator (गति देनेवाला) wave (तरंग) -like (पसंद) robot (यंत्र मानव) के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ यह एक 3-डी प्रिंटेड (मुद्रित) रोबोट (यंत्र मानव) है।

  • यह तरंग (wave) के आकार में गति करता है।
  • यह मनुष्य की आंत में प्रवेश करने में सक्षम है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं।

अ) केवल 1 और 2

ब) केवल 2

स) केवल 1 और 3

द) 1,2 और 3

उत्तर: (द)

व्याख्या: उपर्युक्त सभी कथन सही हैं।

  • ‘स्नेक रोबोट’ अथवा SAW (single (एक) actuator (गति देनेवाला) wave (तरंग) -like (पसंद) robot (यंत्र मानव) एक 3-डी प्रिंटेड (मुद्रित) रोबोट है जो तरंग (wave) के आकार में गति करता है।
  • एसएडब्ल्यू चिकित्सा की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण है। यह रोबोट मनुष्य की आंत में प्रवेश करने में सक्षम है। जल्दी ही इसका उपयोग पाचन तंत्र के भीतर की रियल (वास्तविक) टाइम (समय) विडियो देखने में किया जा सकेगा।
Snake Robot

2 ‘लक्ष्मी’ रोबोट के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा सही नहीं है?

अ) यह भारत का पहला बैंकिंग (महाजन) रोबोट (यंत्र मानव) है।

ब) यह कुम्बकोनम स्थित भारतीय स्टेट (राज्य) बैंक (अधिकोष) दव्ारा लॉन्च (शुरू) किया गया है।

स) यह खाते में शेष राशि, जमा राशि, फिक्सड (निर्धारित) डिपोजिट (जमा) , भुगतान जैसे प्रश्नों का उत्तर देने में सक्षम है।

द) यह आर्टिफिशियल (कृत्रिम) इंटेलिजेंस (बुद्धि) पर आधारित है।

उत्तर: (ब)

व्याख्या:

  • लक्ष्मी भारत का पहला बैंकिंग रोबोट है। अत: विकल्प (अ) सही है।
  • यह कुम्बकोनम स्थित सिटी (शहर) यूनियन (संघ) बैंक (अधिकोष) दव्ारा लॉन्च (शुरू) किया गया है। यह फ्रांस से आयातित है। अत: विकल्प (ब) गलत है।
  • यह खाते में शेष राशि, जमा राशि, फिक्सड डिपोजिट, भुगतान जैसे प्रश्नों का उत्तर देने में सक्षम है। यह विनिमय दरों जैसी जानकारी का रियल (वास्तविक) टाइम (समय) अपडेट (सुधार) देने में भी सक्षम है। यह अभी अंग्रेजी भाषा में जवाब देता है। आगे इसे क्षेत्रीय भाषाओं में भी जवाब देने में सक्षम बनाया जाएगा। अत: विकल्प (स) सही है।
  • यह आर्टिफिशियल (कृत्रिम) इंटेलिजेंस (बुद्धि) पर आधारित है। अत: इसमें उपभोक्ताओं से सीखने की क्षमता भी है। अत: विकल्प (द) भी सही है।
Laxmi Robot

3 रोबोटिक्स (यंत्र मानव) के अनुप्रयोगों के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ सॉफ्टवेयर रोबोटिक्स के माध्यम से बैंकिंग (महाजन) को आसान बनाया जा सकता है।

  • इनकी सहायता से शल्यचिकित्सा को अधिक आसान और कम जोखिमपूर्ण बनाया जा सकता है।
  • इनकी सहायता से पर्यावरणीय जोखिमों को कम किया जा सकता है।
  • एग्रो रोबोट की सहायता से कृषि को सरल और अधिक उत्पादक बनाया जा सकता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-से सही हैं?

अ) केवल 1,2 और 3

ब) केवल 2,3 और 4

स) केवल 1,3 और 4

द) 1,2, 3 और 4

उत्तर: (स)

व्याख्या: उपर्युक्त सभी कथन सही है।

  • रोबोटिक्स मानव जीवन में बहुत ही उपयोगी तकनीक है। इसकी सहायता से कठिन कार्यों को उच्च शुद्धता के साथ सरल और सरल कार्यो को अति सरल बनाया जा सकता है।
  • सॉफ्टवेयर रोबोटिक्स के माध्यम से बैंकिंग को आसान बनाया जा सकता है। भारत में सबसे पहले एक साथ 200 सॉफ्टवेयर रोबोट तैनात करने का श्रेय आईसीआईसीआई बैंक को जाता है। इस तकनीक की सहायता से बैंक उपभोक्ताओं को अधिक तीव्र और सुविधाजनक रूप से सहायता प्रदान करने में सफल रहा है।
  • इनकी सहायता से शल्यचिकित्सा को अधिक आसान और कम जोखिमपूर्ण बनाया जा सकता है। चिकित्सा के लिये डिजाइन (रूपरेखा) किये गए रोबोट शल्यचिकित्सा को अधिक परिशुद्धता और कम जोखिम के साथ संपन्न करने में सक्षम हैं। इनकी सहायता से दूर-दूराज़ के क्षेत्रों में भी अच्छी चिकित्सा सुविधाएँ उपलब्ध कराई जा सकती हैं।
  • इनकी सहायता से पर्यावरणीय जोखिमों को कम किया जा सकता है। नैनो रोबोट का उपयोग तेल के फैलाव और डिस-असेम्बल्ड (खोलना/अलग करना) प्रदूषकों को विशेष रूप से गैर- बायोडिग्रैडेबल (जैवनिम्नीकरण) प्रदूषकों के प्रभाव को कम करने के लिये जा सकता है। परमाणु संयंत्रों में परमाणु कचरे के निपटान में रोबोट का इस्तेमाल किया जा सकता है, जो खतरनाक विकिरण के संभावित जोखिम से परमाणु संयंत्र में व्यावसायिक श्रमिकों को बचाता है।
  • एग्रो (कृषि) रोबोट की सहायता से कृषि को सरल और अधिक उत्पादक बनाया जा सकता है। इसकी सहायता से खेत जोतना, सही समय पर और सही मात्रा में खेतों की सिंचाई, मृदा की गुणवत्ता की जाँच आदि महत्वपूर्ण कार्यों को किया जा सकता है, जो कि कृषि के लिये अधिक उत्पादक सिद्ध होगा।
Agricultural Robot

4 ‘टेलीरोबोटिक्स’ के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा सही है?

अ) रोबोटिक्स का वह क्षेत्र जिसमें टेलीफोन सेवाएँ रोबोट के माध्यम से उपलब्ध कराई जाती हैं।

ब) रोबोटिक्स का वह क्षेत्र जिसमें दूर से नियंत्रित किये जा सकने वाले अर्द्ध-स्वायत्त रोबोट आते हैं।

स) यह रोबोटिक्स का वह क्षेत्र है जिसके अंतर्गत मोबाइल (गतिशील) फोन (दूरभाष) को एक सक्षम रोबोट में बदला जाता है।

द) इसके अंतर्गत मोबाइल फोन का निर्माण रोबोट्‌स के दव्ारा कराया जाता है।

उत्तर: (ब)

व्याख्या:

  • रोबोटिक्स का वह क्षेत्र जिसमें दूर से नियंत्रित किये जा सकने वाले अर्द्ध-स्वायत्त रोबोट आते हैं। इन रोबोट्‌स का नियंत्रण मुख्यत: वायरलेस (ताररहित) नेटवर्क (जालतंत्र) जैसे वाई-फाई, ब्लुटूथ, डीप (गहरा) स्पेस (अंतरिक्ष) नेटवर्क (जालतंत्र) या टिदर्ड (रस्सी से बंधांं हुआ) कनेक्शन (संबंध) के माध्यम से किया जाता है। यह दो प्रमुख उपक्षेत्रों टेलीओपरेशन और टेलीप्रेसेन्स का एक संयोजन है।
  • टेलीरोबोट दव्ारा ऐसे क्षेत्रों में भी कार्य किया जा सकता है जहाँ मानव अत्यधिक दूरी, जोखिम और अगम्यता के कारण उपस्थित नहीं हो सकता है।
  • इस तकनीक का उपयोग अंतरिक्ष, समुद्र, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (सम्मेलन) , टेलीमेडिसिन (दूरचिकित्सा) आदि क्षेत्रों से संबंधित अध्ययनों और अनुसंधानों में सक्षम और प्रभावी रूप में किया जा सकता है।
Robotics Terminology

5 हाल ही में यूनिसेफ तथा डब्ल्यू. एच. ओ ने भारत को ‘याज़’ मुक्त घोषित किया गया है, इस बीमारी से संबंधित लक्षणों के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ यह मुख्यत: हड्डी, त्वचा तथा उपास्थि को प्रभावित करने वाली एक संक्रामक बीमारी है।

  • इससे 15 वर्ष से अधिक के लोग सर्वाधिक प्रभावित होते हैं।
  • यह जीवाणु जनित रोग है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं।

अ) केवल 1

ब) केवल 2 और 3

स) केवल 1 और 3

द) 1,2 और 3

उत्तर: (स)

व्याख्या:

  • हाल ही में यूनिसेफ तथा डब्ल्यू. एच. ओ. ने भारत को याज़ मुक्त घोषित किया गया है। यह लक्ष्य भारत ने 2020 से पहले प्राप्त कर लिया है, जो कि डब्ल्यू. एच. ओ. दव्ारा घोषित लक्ष्य था।
  • यह मुख्यत: हड्डी, त्वचा तथा उपास्थि को प्रभावित करने वाली एक संक्रामक बीमारी है। अत: कथन 1 तथा 3 सही हैं।
  • इससे 15 वर्ष से अधिक के लोग सर्वाधिक प्रभावित होते हैं। अत: कथन 2 गलत है।
  • गौरतलब है कि यह रोग अधिकतर भीड़-भाड़ वाले ऐसे इलाकों में होता है जहाँ मूलभूत सुविधाओं की पहुँच बहुत सीमित स्तर तक होती है।

6 भारत में निर्मित पहली लेप्रोसी वैक्सीन (टीका) के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ इसे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एआईआईएमएस) दव्ारा विकसित किया गया है।

  • इसे बिहार तथा गुजरात में पायलट (संचालन) प्रोजेक्ट (परियोजना) के तौर पर शुरू किया गया है।
  • यह कुष्ठ रोगियों के आस-पास रहने वाले लोगों को लगाया जाएगा।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही नहीं है/हैं।

अ) केवल 1

ब) केवल 2 और 3

स) केवल 3

द) 1,2 और 3

उत्तर: (अ)

व्याख्या:

  • एमआईपी (Mycobacterium Indicus Pranii) भारत में निर्मित पहली लेप्रोसी (कुष्ठरोग) वैक्सीन (टीका) है, जिसे राष्ट्रीय प्रतिरक्षा विज्ञान संस्थान दव्ारा विकसित किया गया है। अत: कथन 1 गलत है।
  • इसे बिहार तथा गुजरात में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया गया है। अत: कथन 2 सही है।
  • यह टीका कुष्ठ रोगियों के आस-पास रहने वाले लोगों को लगाया जाएगा। अत: कथन 3 सही है।
New Leprosy Vaccine

7 हाल ही में चर्चा में रहे एमसीआर-1 के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सही है?

अ) यह एक एंटीबायोटिक (प्रतिजैविक) रेसिस्टेंट (प्रतिरोधी) है।

ब) मानसिक विकलांगता के लिये ज़िम्मेदार विषाणु है।

स) डेंगु तथा चिकनगुनिया के एक साथ संक्रमण से बचाव में सक्षम वैक्सीन है।

द) भारत में बनने वाली पहली एंटीबायोटिक (प्रतिजैविक) दवा है।

उत्तर: (अ)

व्याख्या: हाल ही में भारत में वैज्ञानिकों ने इ. कोलाइ के एक स्ट्रेन से एंटीबायोटिक रेसिस्टेंट एमसीआर-1 जीन को पृथक किया है। यह जीन एक विशेष एंटीबायोटिक (कोलिस्टीन) के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित कर सकता है। उल्लेखनीय है कि कोलिस्टीन वर्तमान में प्रयोग में आने वाली सबसे प्रभावी एंटीबायोटिक्स में से एक है।

Antibiotic Occure

8 जीवन रेखा ई-स्वास्थ्य परियोजना के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ इसे डब्ल्यू. एच. ओ. की सहायता से कर्नाटक सरकार दव्ारा शुरू किया गया है।

  • इसका उद्देश्य इंटीग्रेटेड (संपूर्ण) हेल्थ (स्वास्थ्य) केयर (देखभाल) क्लाउड (समूह) का निर्माण करना है।
  • सभी सरकारी चिकित्सालयों का डिजिटलीकरण (अंकीय) करने का भी प्रस्ताव है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही नहीं है/हैं।

अ) केवल 1

ब) केवल 2 और 3

स) केवल 3

द) 1,2 और 3

उत्तर: (अ)

व्याख्या:

  • जीवन रेखा ई स्वास्थ्य परियोजना केरल राज्य में विश्व बैंक के सहयोग से चलाई जा रही है। अत: कथन 1 गलत है। इस योजना के मुख्यत: दो अवयव हैं: सार्वजनिक स्वास्थ्य तथा हॉस्पिटल (चिकित्सालय) ऑटोमेशन (स्वचालन) मॉडयूंल (मापदंड) ।
  • इस योजना के तहत इंटीग्रेटेड हेल्थ केयर क्लाउड का निर्माण किया जायेगा तथा सभी सरकारी चिकित्सालयों का डिजिटलीकरण करने का भी प्रस्ताव है। अत: कथन 2 और 3 सही हैं।
Health Care Skim

9 डीप (गहरा) ब्रेन (दिमाग) स्टिम्युलेटर (प्रेरणा) के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

ढवस बसेेंत्रष्कमबपउंसष्झढसपझ यह मस्तिष्क के निश्चित भाग में इलेक्ट्रोड्‌स (विद्युत-दव्ार) स्थापित करने वाला यंत्र है।

  • पार्किन्संस रोग के इलाज में डीप ब्रेन स्टिम्युलेटर एक उपयोगी यंत्र है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है/हैं।

अ केवल 1

ब) केवल 2

स) 1 और 2 दोनों

द) न तो 1 और न ही 2

उत्तर: (स)

व्याख्या:

  • डीप ब्रेन स्टिम्युलेटर ऐसा यंत्र है, जिसकी सहायता से मस्तिष्क के निश्चित भाग में इलेक्ट्रोड्‌स स्थापित किया जाता है।
  • पार्किन्संस रोग के इलाज में डीप ब्रेन स्टिम्युलेटर एक उपयोगी यंत्र है। इसके अतिरिक्त यह यंत्र डाइस्टोनिया, पुरान दर्द आदि बीमारियों के इलाज में भी कारगर है।
  • हाल ही में भाभा परमाणु अनुसंधान केन्द्र और श्री चित्र तिरुनल इंस्टीटयूट (संस्थान) फॉर (के लिये) मेडिकल (चिकित्सा) साइंसेज (विज्ञान) एंड (और) टेक्नोलॉजी (तकनीकी) (तिरुअनंतपुरम) ने डीप ब्रेन स्टिम्युलेटर के विकास हेतु समझौता किया है।

10 इम्यूनोथेरेपी के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में कौन-सा सत्य है?

अ) यह तकनीक कैंसर के उपचार में प्रयुक्त होती है।

ब) यह एक रासायनिक चिकित्सा पद्धति है।

स) इस पद्धति में दुष्प्रभावों का अभाव होता है।

द) इसमें अंत: शिरा विधि नहीं प्रयुक्त की जाती है।

उत्तर: (अ)

व्याख्या:

  • इम्यूनोथेरेपी एक जैविक उपचार तकनीक है, जो कैंसर के इलाज में मददगार है। यह कैंसर से लड़ने के लिये शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाती है। उल्लेखनीय है कि प्रतिरक्षा प्रणाली श्वेत रक्त कोशिकाओं और लसीका तंत्र के ऊतकों और अंगों से मिलकर बना होता है।
  • इम्यूनोथेरेपी को अंत: शिरा, मौखिक, स्थानिक, और सीधे मूत्राशय आदि विधियों से दी जा सकती है।
  • इम्यूनोथेरेपी के कई दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं, जैसे-दर्द, खुजली, लाल चकते, सांस लेने में कठिनाई, उच्च या निम्न रक्तदाब आदि।
Immunotherapy Work

Developed by: