सर चंद्रशेखर वेंकटरमण का योगदान (Contribution of Chandrasekhar Venkataraman – Science and Technology)

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-1 : get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-1.

प्रमुख कार्य

§ रमन प्रभाव: किसी पारदर्शी पदार्थ से गुजरने पर प्रकाश के प्रकीर्णन की उत्कृष्ट व्याख्या करने के लिए 1930 में उन्हें भौतिकी का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

अल्ट्रासोनिक और हाइपरसोनिक तंरगों की आवृत्तियों दव्ारा प्रकाश के विवर्तन का प्रयोगिक व सैद्धांतिक अध्ययन।

रमन प्रभाव क्या हैं?

किसी माध्यम में प्रकीर्णित स्पेक्ट्रम में से कुछ के दव्ारा तरंग दैर्ध्य में परिवर्तन। यह प्रभाव उन अणुओं के विशिष्ट है जो इसे उत्पन्न करते हैं और इसलिए इनका उपयोग वर्णक्रम दर्शी विश्लेषण में किया जा सकता है।

कुछ अनुप्रयोग

रसायन उद्योग

§ उत्प्रेरकों के अध्ययन हेतु

§ पेट्रो रसायन उद्योग में रासायनिक शुद्धता की निगरानी के लिए

§ बहुलकीकरण अभिक्रिया के नियंत्रण हेतु

नैनो तकनीकी एवं पदार्थ विज्ञान

§ नैनो कणों के अध्ययन हेतु

§ सूक्ष्म इलेक्ट्रॉनिक (विद्युत) उपकरणों तथा उत्कृष्ट फोटोवोल्टिक सेल्स (ब्रिकी की मात्रा) के विकास हेतु

जैवचिकित्सीय अनुप्रयोग

§ त्वचा के इन वीवो अध्ययन हेतु

§ ट्रांसडर्मल ड्रग (घसीटना) ट्रांसफर (स्थानातंरण)

§ कैंसर की पहचान हेतु

§ अस्थियों के अध्ययन हेतु

मादक द्रव्यों एवं विस्फोटकों के निरोध हेतु

§ मादक द्रव्यों का पता लगाने के लिए हाथ के उपकरण के विकास में

§ टीएनटी, आरडीएक्स, एचएमएक्स जैसे विस्फोटकों का पता लगाने के लिए हाथ के उपकरण के विकास में

Developed by: