Important of Polity Grenal Knowledge Questions and Answers Exam Paper

Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-2 is prepared by world's top subject experts: get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-2.

18 निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए-

(1) भारत के संविधान में भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए बारह मूल कर्तव्य निर्धारित किए गए हैं।

(2) भारत के संविधान में मूल कर्तव्य के सीधे बाध्यकरण के लिए कोई प्रावधान नहीं हैं।

(3) भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए आम चुनाव अथवा राज्य के चुनाव में अपना मत देना एक मूल कर्तव्य है ताकि भारत में एक सक्रिय लोकतंत्र संपोषित रहे।

उपयुक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(a) 1 और 2

(b) केवल 2

(c) 2 और 3

(d) केवल 3

Answer (b)

19 निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए-

(1) अनुच्छेद 301 संपत्ति के अधिकार से संबंद्ध है।

(2) संपत्ति का अधिकार एक विधिक अधिकार है किन्तु यह मूल अधिकार नहीं हैं।

(3) भारत के संविधान में अनुच्छेद 300 उस समय केंद्र में कांग्रेस सरकार दव्ारा 44वें संविधान संशोधन से अंत: स्थापित किया गया।

उपरोक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(a) केवल 2

(b) 2 और 3

(c) 1 और 3

(d) 1,2 और 3

Answer (b)

20 भारतीय संविधान के निम्नलिखित भागों में से किस एक में न्यायपालिका तथा कार्यपालिका के पार्थक्य का प्रावधान हैं?

(a) प्रस्तावना

(b) मूल अधिकार

(c) राज्य के नीति-निदेशक सिद्धांत

(d) सातवीं तालिका

Answer (c)

21 निम्नलिखित में किसके मामले उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय दोनों की अधिकारिता में आते हैं।

(a) केन्द्र और राज्यों की बीच

(b) राज्यों के परस्पर विवाद

(c) मूल अधिकारों का संरक्षण

(d) संविधान के उल्लंघन से सरंक्षण

Answer (b)

22 मौलक कर्तव्यों से संबंधित निम्नलिखित में कौन-सा कथन सही नहीं है?

(a) उन्हें परमादेश दव्ारा प्रभावी बनाया जा सकता हैं

(b) उन्हें संवैधानिक प्रक्रिया से ही बढ़ाया जा सकता है।

(c) अस्पष्ट विधियों की व्याख्या के लिए उनका उपयोग किया जा सकता है।

(d) किसी विशिष्ट कर्तव्यों का पालन करना संवैधानिक कानून के क्षेत्र में आता है जिसे न्यायालय निश्चित करता है।

Answer (b)

23 निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए-

(1) भारत के संविधान के 20वें अनुच्छेद के अनुसार किसी व्यक्ति को, उसके प्राण या दैहिक स्वतंत्रता से विधि दव्ारा स्थापित प्रक्रिया के अनुसार ही वंचित किया जाएगा अन्यथा नहीं।

(2) भारत के संविधान के 21वें अनुच्छेद के अनुसार कोई व्यक्ति किसी अपराध के लिए तब तक सिद्धकोष नहीं ठहराया जाएगा जब तक कि उसने ऐसा कोई कार्य करने के समय, जो अपराध के रूप में आरोपित है, किसी प्रवृत्त विधि का अतिक्रमण नहीं किया है।

(a) केवल 1

(b) केवल 2

(c) 1 और 2

(d) न तो 1, न ही 2

Answer (d)

24 किसी व्यक्ति की भारतीय नागरिकता रद्द या निलम्बित की जा सकती है-

(1) यदि कोई व्यक्ति स्वेच्छा से दूसरे देश की नागरिकता ग्रहण कर लेता है।

(2) यदि वह नागरिकता के दायित्व से परिचित नहीं हैं।

(3) यदि भारत सरकार को यह विश्वास हो जाए कि नागरिकता छलपूर्वक प्राप्त की गई है।

(4) यदि कोई व्यक्ति जन्म से देश का नागरिक है किन्तु किसी विदेशी राष्ट्र से युद्ध के दौरान वह शत्रु को सहायता पहुँचाने की गतिविधियों में लिप्त पाया जाता है।

(a) 1 और 3

(b) 1,2 और 3

(c) 1,3 और 4

(d) 1,2, 3 और 4

Answer (c)

25 निम्न में से कौन-से वे अधिकार हैं, जो भारतीय नागरिकों के साथ ही भारतीय क्षेत्र में निवास करने वाले विदेशियों को भी प्राप्त हैं?

(1) शैक्षिक एवं सांस्कृतिक अधिकार

(2) धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार

(3) राज्य दव्ारा लिंग, जाति, धर्म एवं जन्म स्थान के आधार पर भेदभाव के विरुद्ध अधिकार

(4) व्यक्तिगत स्वतंत्रता का अधिकार

(a) 1 और 2

(b) 3 और 4

(c) 2 और 4

(d) 1,2, 3 और 4

Answer (c)

26 निम्न में से कौन नीति-निदेशक तत्व नहीं है?

(1) शिक्षा का अधिकार

(2) मातृत्व सहायता

(3) बाल श्रम पर रोक

(4) बेगार पर रोक

(5) समान नागरिक संहिता

(a) 1,3 और 4

(b) 1,2 और 5

(c) 3 और 4

(d) 2,3, 4 और 5

Answer (c)

Developed by: