बागवानी आंकड़े (Horticulture Statistics – Economy)

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET-Hindi/Paper-2 : get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of CTET-Hindi/Paper-2.

सुर्ख़ियों में क्यों?

• कृषि मंत्रालय की ओर से प्रथम बार जारी किये गए बागवानी के आंकड़े यह प्रदर्शित करते हैं कि पिछले कुछ वर्षो में खाद्यान्न फसलों की तुलना में बागवानी फसलों की ओर किसान अधिक आकर्षित हुए हैं।

सर्वेक्षण के महत्वपूर्ण आंकड़े

• बागवानी के लिए कृषि क्षेत्र में 18 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि खाद्यान्न के लिए 5 प्रतिशत की ही वृद्धि हुई।

• भारत के कुल बागवानी उत्पादन में फलों और सब्जियों का हिस्सा 90 प्रतिशत है।

• बागवानी फसलों की ओर किसानों के रूख़ में परिवर्तन की शुरूआत वर्ष 2012 - 13 से हुई जब बागवानी उत्पादन खाद्यान्न उत्पादन को पार किया।

• बागवानी फसलों के अंतर्गत कृषि क्षेत्र में प्रति वर्ष 2.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और उनके उत्पादन में 7 प्रतिशत प्रतिवर्ष की वृद्धि हुई है।

• 9.5 प्रतिशत की सर्वाधिक वार्षिक उत्पादन वृद्धि फलों के उत्पादन में देखी गयी-विशेष रूप से सिट्‌स फलों के उत्पादन में।

• सब्जियों और फलों का सर्वाधिक सेवन ग्रामीण क्षेत्रों की तुलना में शहरी क्षेत्रों में होता है।

• अन्य बागवानी फलों की तुलना में अंगूर निर्यात के मामले में शीर्ष स्थान पर है।

विशिष्ट बागवानी फसलों के अग्रणी उत्पादक राज्य

1. फल: महाराष्ट्र

2. सब्जियां: पश्चिम बंगाल

3. फूल: तमिलनाडु

4. मसालें: गुजरात

5. बगान फसलें: तमिलनाडु

Developed by: