अमेरिका में सुपरबग (The superbug)

Download PDF of This Page (Size: 179K)

सुर्खिया में क्यों

हाल ही में, अमेरिका में एक महिला को ई.कोलाई बैक्टीरिया से संक्रमित पाया गया, ई. कोलाई में एक नया जीन, एमसीआर-1, पाया गया, जो अंतिम विकल्प के रूप में इस्तेमाल किये जाने वाले कोलिस्टीन जैसे एंटीबायोट्रिक (जीवाणुनाशक) के प्रति प्रतिरोधी है।

इसे सुपरबग क्यों कहा जा रहा हैं?

• हालांकि कोलिस्टन के प्रति प्रतिरोध अतीत में कई देशों में पाया गया था, इसकी इस कारण अनदेखी की गयी कि इस तरह का प्रतिरोध जीन म्यूटेशन के कारण है जो कि बैक्टीरिया के बीच आसानी से नहीं फैल कर सकता।

• लेकिन एमसीआर-1 एक पूरी तरह से अलग तरह खतरा बन गया है: इस मामले में गुणसुत्र के बाहर पाया गया डीएनए (प्लाज्मिड) का एक छोटा सा टुकड़ा एंटीबायोटिक प्रतिरोध के लिए जिम्मेदार जीन का वहन करता है। चूंकि जीन गुणसूत्र के बाहर पाया जाता है, यह मरीजों के साथ ही विभिन्न प्रकार बैक्टीरिया के बीच आसानी से फैल सकता है।

• यदि यह जीन अंतिम विकल्प के रूप में इस्तेमाल किये जाने वाले एंटीबायोटिक से उपचारित हो सकने वाले बग मेे पहुँच जाये, तो यह सुपरबग का निर्माण कर सकता है।

• संभवत: यह बैक्टीरिया संक्रमण के उपचार के लिए प्रभावी दवाओं से रहित एक युग को जन्म दे सकता है।

• पशुओं में एंटीबायोटिक दवाओं का अनियंत्रित उपयोग दवा प्रतिरोध के विकास का एक प्रमुख कारण है।

Get unlimited access to the best preparation resource for competitive exams - get questions, notes, tests, video lectures and more- for all subjects of your exam.

Developed by: