नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत पहल (Initiative Under Namami Ganges Program – Environment And Economy)

Download PDF of This Page (Size: 184K)

गंगा ग्राम योजना का शुभारंभ

• इस योजना के तहत गंगा के किनारे स्थित 1600 गांवों का विकास किया जाएगा।

• पहले चरण में इस योजना के तहत 200 गांवों का चयन किया गया है।

• इन गांवो की खुली नालियों एवं नालों को गंगा में गिरने से पूर्व उन्हें रोककर कचरा निकासी और उसके शोधन की वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी।

• इन गांवों में प्रत्येक परिवार हेतु पक्के शौचालयों का निर्माण किया जाएगा।

• इन गांवों का सिचेवाल मॉडल (आदर्श) के तहत विकास किया जाएगा। सिचेवाल पंजाब का वह गांव है जहां ग्रामवासियों के सहयोग से जल प्रबंधन और कचरा निकासी की उत्तम व्यवस्था की गई है।

मिश्रित वेतन आधारित निजी भागीदारी (पीपीपी) मॉडल (आदर्श) का अनुमोदन

• इस मॉडल में पूंजीगत निवेश के एक हिस्से (40 प्रतिशत तक) का भुगतान सरकार दव्ारा किया जाएगा और शेष भुगतान 20 वर्षो तक प्रतिवर्ष किया जाएगा।

गंगा टास्क (कार्य) फोर्स (बल) की तैनाती

• गंगा टास्क फोर्स बटालियन की पहली कंपनी (संघों) को गढ़मुक्तेश्वर में तैनात किया गया है।

• ऐसी तीन और कंपनियों (संघों) कानपुर, वाराणसी और इलाहबाद में शीघ्र ही तैनात की जाएंगी।

• ग्गाां वाहिनी के जवान गंगा के तट पर तैनात रहेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि औद्योगिक ईकाईयाँ और नागरिक गंगा को प्रदूषित ना करें।

Get top class preperation for IAS right from your home- Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

Developed by: