Regional Development and Planning, the Basic 4 Linguistic Groups of India Part 17

Glide to success with Doorsteptutor material for CTET : Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

भारत की मूल 4 भाषायी समूह है। (The basic 4 linguistic groups of India are)

1 indo – Aryan (आर्य भाषी समूह) :-इसके दो उपवर्ग है-

  • Dardic- शीना (shina) ] kufristani
  • संस्कृत

कश्मीर में बोली जाने वाली भाषा

Kashmiri Language
Types Language
Appendage of Laungage
Magdhi of Language
Easten India

2 Dravidian:-मलयालम, कन्नड, तमिल, तेलगू 60 प्रतिशत संस्कृत

  • तेलगू-Italian of the east सबसे समृद भाषा (ज्यादा साहित्य मिलता है) 40 - 45 प्रतिशत संस्कृत
  • तमिल-purest but 25 प्रतिशत भाषा संस्कृत
  • कन्नड-40 - 45 प्रतिशत संस्कृत

3 Nisad:-पठारी भाषायें (मध्य भारत, पूर्वी पठार) जनजातीय भाषा (गोंडी, संथाली आदि)

4 Kirat:-NE India की भाषा

  • धर्म:-धर्म शब्द का अर्थ है ‘to relegare’ इसका अर्थ है धारण करना/ग्रहण करना/अनुपालन करना। उपनिषद में धर्म का अर्थ है धारयति इति धर्मम अर्थात जिसे धारण किया जाये वह धर्म है। धर्म का अर्थ प्रकृति के नियमों का पालन है। विरूद्ध आचरण अधर्म कहलाता है।
  • जैसे-अग्नि का धर्म है जलाना, जल का धर्म है शीतलता मानव धर्म है मानवीयता
  • उपनिषद पर बेस्ड -Jainism, Buddhism
  • भारत में सभी धर्म प्राप्त होते है-
    • ब्रह्मवाद (plinduism/Brahmanism)
    • इस्लाम
    • Buddhism
    • Jainism
    • Christian
    • zoroastrianism (पारसी)
    • Judaism (यहूदी)

भारत के सांस्कृतिक प्रदेश

Rajsthani Language

6

Gujarati Language

7

Hindi Culture

8 Central tribal culture

9

Eastren Culture

10 सिक्कम, अरूणांचल, Buddhist culture

11 Greater Naga culture

12

Marathi Culture

13

Southern Culture

Developed by: