पश्चिमी यूरोप का भूगोल (Geography of Western Europe) Part 7 for TISS Exam

Get top class preparation for IAS right from your home: Get detailed illustrated notes covering entire syllabus: point-by-point for high retention.

जल परिवहन-

  • राडन विश्व की सबसे व्यस्त व्यापारिक नदी है, जिसकी समता केवल सेंट लारेंस नदी ही कर सकती है। राडन के व्यापार में कोयले का महत्व अधिक होने के कारण इसे कोयला ढोने वाली नदी कहते है।
  • परिवहन की दृष्टि से पश्चिमी यूरोप में राडन के बाद एल्ब नदी का स्थान है। इसके किनारे कई नगर बसे हुए हैं जैसे- ड्रेसडन, मिसन, हेमबर्ग इत्यादि। एल्ब नदी नहरों दव्ारा एम्स तथा राडन नदी से मिली है।
  • वेसर, ओडर, डैन्यूब, रोन, सीन, टेम्स आदि नदियाँ भी मैदानी भागों में उत्तम जलमार्ग बनाती है। एब्रो एंव पो नदियाँ भी जलपरिवहन हेतु जानी जाती हैं।

जलविद्युत-

पहाड़ी नदियों से भरे नार्वें हवीडेन में प्रतिचक्रि विद्युत उत्पादन संसार में सबसे अधिक हैं। यूरोप की एक चौथाई यही उत्पन्न की जाती हैं। इटली, फ्रांस, स्पेन इत्यादि देश भी पहाड़ी भागों में नदियों से बिजली तैयार कर रहे हैं। फ्रांस की रोन नदी पर कई बांध बनाए गए है और जलविद्युत उत्पादन होता हैं। इटली का औद्योगिक विकास पूर्ण रूप से जलविद्युत पर ही निर्भर है। स्विटजरलैंड अपनी जलशक्ति का सर्वाधिक उपयोग कर रहा है।

Developed by: